ग्राम पंचायत व मजरों में लगे हैंडपंप बने शो पीस

0
96

चकलवंशी/उन्नाव (ब्यूरो)- उत्तर प्रदेश की जनता उसी तरह पानी को तरस रही है जिस प्रकार पूर्व सरकार में चल रहा था| ग्रामीणों का कहना है कि सरकार का बदलाव तो हो गया परंतु अधिकारी वहीं है| मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशों की जनपद के आलाधिकारी खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं| विकास खंड अधिकारी को जानकारी नहीं है कि उनके क्षेत्रों में हैंडपंप कितने लगे हुए हैं, यहाँ तक कि ग्रामविकास अधिकारियों के मोबाइल नंबर भी उपलब्ध नहीं है|

जनता किस तरह विश्वास करे कि यहां विकास हो पायेगा जब इस तरह के अधिकारियों की तैनाती रहेगी| अब यह देखना है कि नई सरकार का गठन हो गया| इन अधिकारियों पर मुख्यमंत्री का आदेश बेअसर दिखाई दे रहा है।

विकास खंड सिकंदरपुर सरोसी क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत बंदा खेङा के मजरा धौकल खेङा,राम सिंह खेङा, गौरी, पुरानी बाजार, बरबटपुर, धत्ता खेङा, शंकर खेङा, गुलाब खेङा, जंगली खेङा आदि है| जहां पर मुख्यमंत्री के अदेशों की खुलेआम जनपद के आलाधिकारी धज्जियां उड़ा रहे है| एक तरफ योगी सरकार आदेशित कर रही है किसी भी क्षेत्रों में कोई समस्या नहीं आनी चाहिए|

उसके बाद भी अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं, भीषण गर्मी के कारण गांवों की जनता पानी के लिये तरस रही है| ग्रामीणों का कहना है कि हमारे गांवों में लगभग दस वर्षों से नलकूपों की मरम्मत नहीं की गयी है, जो कि गयी वह सिर्फ कागजों पर मरम्मत कार्य किया गया है| ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारियों व प्रधान की मिलीभगत से हजारों रुपये का बंदर-बांट हुआ है।

गांव के लोगों ने कहा है कि हमें पूरी तरह से विश्वास है कि योगी सरकार में भष्टाचार करने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही जरूर की जायेगी| इस ग्राम पंचायत में लगभग आधा दर्जन हैंडपंप खराब पङे हुये है| जिस पर जनपद के आलाधिकारी बिलकुल ध्यान नहीं दे रहे हैं| प्रकाश विमल के दरवाजे के पास हैंडपंप लगा हुआ है जो लगभग दस वर्षों से खराब पड़ा है जिसकी शिकायत प्रधान व मंत्री से कई उसके बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई|

दूसरा जान मोहम्मद के दरवाजे के पास लगा है यह भी खराब पङा है, तीसरा तारा शंकर के दरवाजे के पास खराब पङा है, चौथा माता जी मंदिर के पास लगा हैंडपंप खराब पङा है| वहाँ पर भक्त पानी पीने के लिए तरस रहे हैं पांचवा ब्रह्मदेव बाबा के स्थान पर लगा नल खराब पङा हुआ है| इसी तरह लगभग पूरी ग्राम पंचायत में एक दर्जन से अधिक हैंडपंप खराब पङे हुए हैं| जिस ओर न तो अधिकारी ध्यान दे रहे है न तो क्षेत्र के विधायक ध्यान दे रहे है|

वहां के ग्रामीणों ने कहा है कि जब चुनाव चल रहा था, तब बङे-बङे वादे किये जा रहे थे अब हमे पानी-पीने के लिए तरस रहे है| इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है, क्षेत्र के ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत में ग्राम पंचायत अधिकारी सुरेन्द्र कुशवाहा कभी आते ही नहीं है|

इस संबंध में प्रधान अनिल मिश्रा से बात की आपके ग्राम पंचायत में हैंडपंप कितने लगे हुए हैं और कितने ध्वस्त पङे हुये हैं| तो बताया कि इसकी जानकारी मंत्री के पास है, जब मंत्री का मोबाइल नंबर की जानकारी की तो फोन कट कर दिया सबसे बड़ी बात है कि विकास खंड के सक्षम अधिकारी वीडीओ राजीव कुमार सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा एक बार कहा आफिस में है फिर कहा कि हम आफिस में नहीं है|

हमारे विकास खंड में 55 गांव है, हम कहा-कहा की जानकारी रखे उसके बाद मंत्री का मोबाइल नंबर की जानकारी करने का प्रयास किया तो वीडीओ ने फोन काट दिया जब पत्रकार का फोन काट दिया तो क्षेत्रों के पीड़ितों से किस तरह बात की जाती होगी| यह क्षेत्र की जनता ही जानती है ग्रामीणों का कहना है कि हमारे गांव में पानी-पीने की समस्या बनी हुई है|

इस संबंध में जिलाधिकारी से गुहार लगाई है कि जांच करवाकर कार्यवाही की मांग की है। यदि कार्यवाही नहीं हुई तो हम समस्त गांव के लोग मुख्यमंत्री को अवगत करायेंगे। इसी तरह चलता रहा तो पूर्व सरकार व नई सरकार में अंतर क्या रहा ग्रामीणों ने कहा कि अब यह देखना है कि पूर्व सरकार की तरह चलेगा कि कोई बदलाव होगा यह आने वाला समय ही बताएगा।

रिपोर्ट- जितेन्द्र गौड़ 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY