ग्राम पंचायत अधिकारी की अकर्मणता से ग्रामीण विकास की गति शून्य

0
71

वाराणसी(ब्यूरो)- आराजी लाईन विकास खन्ड अंतर्गत ग्राम पंचायत जगतपुर नियुक्त सचिव की कर्महीनता के कारण विकास योजनाओं की शुरुआत नहीं हो पा रही है । जिसके चलते विकास की गति शून्य हो गई है|

दिसम्बर 2016 से तत्कालीन सचिव के रिटायर होने के पश्चात चार्ज पर श्री शीतला प्रसाद पांडेय ग्राम पंचायत अधिकारी को सुपुर्द किया गया| लगभग आठवॉं माह बितने के बाद भी आज तक उक्त कर्मचारी ग्राम सभा मे उपस्थित नही हो पाए और न ही ग्राम सभा मे कोई बैठक, प्रस्ताव, मृत्यु व जन्म तथा परिवार रजिस्टर आदि की नकल भी जारी नहीं किया जा सका| किसान बाहुल्य क्षेत्र होने के बाद भी ट्यूबेल नाली, ग्रामीण जल निकासी व खडन्जा निर्माण की स्थापना न होने के कारण ग्रामवासी परेशान हैं। साथ ही शासन की बहुमूल्य कार्यक्रम स्वच्छता अभियान अन्तर्गत आदेशित शौचालय निर्माण कार्य भी श्री शीतला प्रसाद पांडेय जी ग्राम पंचायत अधिकारी की अनुपस्थिति व अनुपलब्धता के कारण शौचालय के निर्माण हेतु धन की उपलब्धता के बावजूद कार्य प्रारंभ नहीं हो पा रहा है ।

ग्राम प्रधान श्री किशोरी लाल द्वारा उक्त सन्दर्भ में पुछने के उपरान्त उन्होंने बताया ए डी ओ पंचायत से लेकर बिडीओ प्रमुख व तहसील दिवस पर भी दो तीन बार प्रार्थना पत्र दिया गया पर कोई परिणाम नहीं की बात कहा ।एडीओ पंचायत व खन्ड बिकास अधिकारी भी उक्त मामले मे असमर्थता ब्यक्त किया । यदि यथाशीघ्र किसी कर्मशील कर्मचारी ग्राम पंचायत जगतपुर में नियुक्ति नहीं होता तो शासन के निर्देश का पालन या ग्रामीण विकास की परिकल्पना पूर्ण होना सम्भव नहीं होगा ।

रिपोर्ट- रविंद्रनाथ सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here