आदेश के बावजूद भी नहीं रुक रही हरे पेड़ों की कटान

0
92

s are been
फैजाबाद/कोंछाबाजार (ब्यूरो) सूबे की योगी सरकार के पेड़ों की अबैध कटान व अबैध आरामशीन के संचालन पर रोक लगाने के सख्त आदेश के बाद भी नहीं रुक रही है हरे पेड़ों की कटान।

वन महोत्सव सप्ताह के तहत जिले भर के सभी सरकारी अधिकारियों/कर्मचारियों व सामाजिक संगठनों द्वारा धरती को हरी भरी बनाने व दूषित पर्यावरण को शुद्ध करने के लिए एक जुलाई से सात जुलाई तक अनेकों प्रजातियों के पौधे लगा कर जहाँ वन महोत्सव सप्ताह मनाया जा रहा है। वहीं स्थानीय जिम्मेदार अधिकारियों/कर्मचारियों की मिलीभगत/लापरवाही के कारण पर्यावरण के दुश्मन बन चुके लकड़ी कटान के ठेकेदार हरी भरी धरती से हरे पेड़ों का सफाया करने में में जुटे हैं |

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीकापुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सभा कोंछा के कोंछा निधियावां सम्पर्क मार्ग से सटे गांव के समीप शुक्रवार को अलसुबह नीम के हरे-भरे बड़े-बड़े पेड़ों की कटाई शुरू हो गई। ग्रामीणों से सूचना मिलने पर जब तक वनविभाग के अधिकारियी मौके पर पहुंचे तब तक तू डाल डाल तो मैं पात पात की कहावत चरितार्थ करते हुए आनन-फानन में लकड़ी लदी पिकअप सहित लकड़कट मौके से साथियों के साथ फरार हो गये।

इस संबंध में हल्का दरोगा दिवाकर कुमार ने बताया कि अभी तक वनविभाग द्वारा कोतवाली में इस सम्बंध में कोई लिखित तहरीर नहीं दी गई ।मोबाइल से मिली सूचना के आधार पर मैं कोई कारवाई नहीं कर सकता जब तक कि लिखित तहरीर नहीं दी जाती है। संबंध में डीएफओ फैजाबाद ने बताया कि मामला संज्ञान में है जिले से उच्च अधिकारियों की टीम को मौके पर भेज गया है फास्ट गार्ड अवधेश कुमार तथा विभागीय कर्मचारियों को क्षेत्र में पेड़ों की कटान के संबंध में स्पष्टीकरण मांगा गया है, शीघ्र ही दोषी कर्मचारियों एवं ठेकेदार के विरुद्ध कार्यवाही होगी।

रिपोर्ट-यादवेन्द्र मोहन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here