सहवाग के ट्वीट से टूटा गुरमोहर का दिल, बोली- प्लीज मुझे अकेला छोड़ दो

0
276

नई दिल्ली- पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया में छायी हुई दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा और कारगिल शहीद कैप्टन की बेटी गुरमोहर का दिल पूर्व दिग्गज भारतीय क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग के एक ट्वीट से टूट गया है | उन्होंने आज मंगलवार को अपनी फेसबुक वाल पर एक पोस्ट कर लिखा है कि अव वह इस कैम्पेन का हिस्सा नहीं है और खुद को वह इससे अलग कर रही है |

बता दें कि एक चैनल के शो के दौरान गुरमेहर ने कहा था कि, ‘सहवाग का ट्वीट देखकर मेरा दिल टूट गया है, मैं उन्हें बचपन से खेलते हुए देखते आ रही हूँ…..” दरअसल आपको बता दें कि गुरमेहर ने एक पोस्ट में लिखा था कि 1999 में कारगिल में हुए भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध में पाकिस्तान ने उनके पिता को नहीं मारा था बल्कि युद्ध ने उनके पिता को मारा था |’ गुरमेहर के इस ट्वीट के बाद ही दिग्गज क्रिकेटर वीरेंदर सहवाग ने भी एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा था कि, “मैंने 2 तिहरे शतक नहीं जड़े है, मेरे बल्ले ने जड़े है |’

बता दें कि आज मंगलवार गुरमेहर ने अपनी फेसबुक वाल पर लिखा है कि, “मैं कैम्पेन से खुद को अलग कर रही हूं… सभी को बधाई… मैं जो कहना चाहती थी, कह चुकी हूं… मैंने बहुत कुछ सहा है, और 20 साल की उम्र में इतना ही मैं सह सकती थी… यह कैम्पेन मेरे बारे में नहीं, विद्यार्थियों के बारे में था… कृपया बड़ी संख्या में इसमें शिरकत करें… सभी को शुभकामनाएं… मेरी बहादुरी और हिम्मत पर सवाल उठाने वाले किसी भी शख्स से कहना चाहूंगी, मैं काफी बहादुरी दिखा चुकी हूं… यह तय है कि किसी को भी धमकियां देने या हिंसा का रास्ता अपनाने से पहले अब हम कम से कम दो बार सोचेंगे ज़रूर… मैं सभी से अनुरोध करती हूं कि मुझे अकेला छोड़ दिया जाए…”

आपको यह भी बता दें कि गुरमेहर कौर ने आरोप लगाया था कि भारतीय जनता पार्टी समर्थित छात्र संगठन दल अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र उन्हें रेप की धमकी दे रहे है | उन्होंने बताया कि ऐसा उनके साथ इसीलिए किया जा रहा है क्योंकि कुछ समय पहले उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में युद्ध की मुखालफत करते हुए वीडियो पोस्ट किया था, और इसी वीडियो में उन्होंने अपने पिता की मृत्यु के लिए पाकिस्तान को नहीं, युद्ध को दोषी ठहराया था |

यह भी बता देते है कि रेप की धमकी के मामले पर फिलहाल दिल्ली पुलिस जांच कर रही है | इस मामले पर गुरमेहर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से भी मिली थी | जिसके बाद स्वाति ने दिल्ली पुलिस आयुक्त से बात कर मामले को गंभीरता से लेते हुए कार्यवाही की मांग की थी |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here