हजारों बीघे फसल जलमग्न होने से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त

महराजगंज/रायबरेली (ब्यूरो)- मूंग ताल की सफाई ना होने से जहां किसानों की हजारों बीघे फसल जलमग्न हैं तो वहीं ग्रामीणों का उन अधिकारियों को लेकर आक्रोश व्याप्त है जो ड्रेन की सफाई को लेकर ग्रामीणों को अभी तक आश्वस्त करते आये हैं लेकिन काफी इंतजार के बावजूद जब ग्रामीणों की फसलें बर्बाद होने से नही बच सकी तो ग्रामीणों का सब्र का बाँध टूट गया और ग्रामीणों ने निर्णय किया कि यदि जल्द ही मूंग ताल ड्रेन की सफाई नहीं कराई गई तो ग्रामीण धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे ।

बताते चलें कि भाजपा विधायक राम नरेश रावत व ब्लॉक प्रमुख सत्येंद्र प्रताप सिंह के अथक प्रयास से विगत डेढ़ माह पूर्व शासन द्वारा मूंग ताल की ड्रेन सफाई के लिए 20 लाख रुपए स्वीकृत कराए गए थे तथा ठेकेदारों द्वारा टेंडर डालकर ड्रेन की सफाई के लिए ठेका भी ले लिया गया लेकिन डेढ़ माह बीत जाने के बाद आज तक मूंग ताल ड्रेन की सफाई नहीं हो सकी । जिसके चलते खेत के लगभग एक दर्जन गांवों के किसानों की हजारों बीघे फसल जलमग्न है और धान की फसल पानी में डूबी हुई है । जिसके चलते किसान परेशान होने के साथ साथ  है और उच्चाधिकारियों के कानों पर जूं तक नहीं रेंग रही है।

जिसके चलते ग्रामीणों ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि यदि जल्द ही ड्रेन की सफाई नहीं कराई गई तो हम सभी ग्रामीण धरना प्रदर्शन करने के लिए विवश होंगे मामले में ब्लॉक प्रमुख सत्येंद्र प्रताप सिंह का कहना है कि मूंग ताल ड्रेन सफाई के लिए दो बार जिलाधिकारी से मिलकर शिकायत कर चुका हूं तथा 15 बार एक्सईएन से भी मुलाकात कर मामले को अवगत कराया है लेकिन दोनों उच्चधिकारियों ने आज तक मूंग ताल ड्रेन सफाई करवाना उचित नहीं समझा जिससे ग्रामीण हैरान व परेशान हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here