मेक इन इंडिया का कमाल- अब भारत में ही बनेंगे ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट

0
3014

भारत में ही बने पहले ट्रेनिंग एयरक्राफ्ट एचटीटी-40 का ट्रायल एकदम सफल रहा है | जिस समय देश में बने पहले ट्रेनर एयरक्राफ्ट का ट्रायल हो रहा था उस समय खुद रक्षामंत्री श्री मनोहर परिर्कर बेंगलुरु में मौजूद थे | रक्षामंत्री स्वयं ट्रेनर एयरक्राफ्ट एचटीटी-40 की कॉकपिट में बैठे और उन्होंने कहा कि यह एक बेहतरीन ट्रेनर एयरक्राफ्ट है और अब हमें ट्रेनर एयरक्राफ्ट के लिए विदेशों के ऊपर निर्भर नहीं होना पड़ेगा | उन्होंने यह भी कहा है कि यह पीएम मोदी द्वारा चलाये जा रहे मेक इन इंडिया का कमाल है |

हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड ने तैयार किया है इसे –
बता दें कि देश के पहले ट्रेनर एयरक्राफ्ट को भी हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड ने ही तैयार किया है | इस एयरक्राफ्ट के आने के बाद अब सेना के तीनों अंगों थल, जल और वायु सेना के कैडेटस को ट्रेंड करने के लिए हमें विदेशी एयरक्राफ्ट की जरुरत नहीं पड़ेगी |

इसे भी पढ़ें – भारतीय सेना के 10 वे सबसे बड़े हथियार जिनका पूरी दुनिया मानती है लोहा

एचटीटी का पहला प्रोटोटाइप भी इस साल जनवरी में ही आया था –
बता दें कि हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा विकसित इस ट्रेनर एयरक्राफ्ट का पहला प्रोटोटाइप भी इसी साल यानी वर्ष 2016 जनवरी में ही आया था | बताया जा रहा है कि साल 2018 इस ट्रेनर एयरक्राफ्ट को ऑफिसियल क्लीयरेंस भी मिल जाएगी जिसके बाद इसे तीनों सेनाओं के हवाले कर दिया जाएगा |

इसे भी पढ़ें –एक साथ 400 लड़ाकू विमान खरीदने जा रही है, मोदी सरकार

लगातार 30 मिनट तक उड़ान भर सकता है एचटीटी-40-
यहाँ पर यह भी जान लेना अति आवश्यक है कि देश कि प्रमुख वायुयान निर्माता कंपनी हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स द्वारा विकसित यह विमान लगातार हिंदुस्तान टर्बो ट्रेनर-40 ट्रेनर एयरक्राफ्ट लगातार 30 मिनट तक हवा में उड़ान भर सकता है | ज्ञात हो कि हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड ही वह कंपनी है जिसने पूर्णतः स्वदेशी सुपरसोनिक फाइटर एयरक्राफ्ट तेजस का निर्माण किया है |

70 विमान बनाने की है योजना –
बता दें कि हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड वर्ष 2018 तक 2 एचटीटी-40 बेसिक ट्रेनर एयरक्राफ्ट का निर्माण करेगा जबकि वर्ष 2019 से यह प्रतिवर्ष 8 एयरक्राफ्ट और वर्ष 2020 से प्रतिवर्ष 20 विमानों की आपूर्ति करेगा | भारतीय वायु सेना ने फिलहाल हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड को ऐसे ही 70 विमानों की आपूर्ति करने के लिए आर्डर दे दिया है |

एचटीटी-40 के फाइटर जेट भी बनाने की है योजना –
बता दें कि हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड आने वाले समय में एचटीटी-40 के युद्धक संस्करण को भी मार्केट में उतार सकती है और इन फाइटर जेट्स को हिन्दुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड और भारत सरकार म्यांमार, अफगानिस्तान सहित कई अफ़्रीकी देशों को बेचने का भी लक्ष्य रखा है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY