चम्बल फ़िल्म फेस्टिवल में सराही गयी लगाम

0
74

औरैया (ब्यूरो)- इटावा के नगर पंचायत सभागार में हुए चम्बल फ़िल्म फेस्टिवल में औरैया के वीके इंटरटेनमेंट की प्रस्तुति को खूब सराहना मिली। वक्ताओं ने कहा कि प्रथम प्रयास के रूप में यह फ़िल्म निर्माण की दुनिया मे एक सराहनीय कदम है।

इससे पहले बम्बई से आये फ़िल्म सम्पादक अन्नू शुक्ला ने कहा कि के आसिफ इटावा की पहचान थे। मुगले आज़म जैसी लेंड मार्क फ़िल्म देने वाले के आसिफ को जनपद में वह पहचान नहीं मिली जिसके वह हक़दार थे। दस्यु सरगना पान सिंह तोमर के बड़े भाई बलवंत सिंह ने कहा सिनेमा जगत के बड़े लोगों की कथनी करनी में फर्क है। के आसिफ चंबल फिल्म फेस्टिवल की ओर से आयोजक शाह आलम व इ.राज त्रिपाठी ने जनता की लगाम फिल्म के डायरेक्टर विक्रांत दुबे व स्क्रिप्ट राइटर तथा अभिनेता कवि अजय अंजाम को फिल्म की बेहतरीन सिनेमैटोग्राफी एवं कांसेप्ट के लिए सम्मान चिन्ह प्रदान किए ।

उन्होंने कहा कि औरैया का यह प्रथम प्रयास बेहद सराहनीय है। सिनेमा जगत में औरैया ने अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज कराई है जिसके आने वाले समय में बेहतर परिणाम नजर आएंगे। फिल्म को अवार्ड मिलने पर डायरेक्टर विक्रांत दुबे, लपेटे में नेताजी व कवियुद्ध फेम अजय अंजाम तथा फिल्म की पूरी यूनिट ने खुशी जताई। फ़िल्म के अदाकार सत्यजीत शुक्ला, विशाल शुक्ला अनामिका दुबे, प्रिया निषाद मानसी नम्रता सुखसागर दीपक वर्मा युगल पांडे आदर्श पांडे फ़िल्म की सराहना से प्रसन्न दिखे। सम्मान लेकर औरैया पहुंचने पर पुलिस कप्तान श्री त्रिवेणी सिंह ने केम्प कार्यालय बुला कर हौसला अफजाई की।

रिपोर्ट- शुभम पोरवाल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here