हरहुआ विकासखण्ड के बडगांव में शिक्षा के मामले में प्रथम स्थान पर चल रहा है, राजेश्वरी महिला महाविद्यालय हर वर्ष छात्रा करती टाप

0
44

वाराणसी (ब्यूरो) हरहुआ बडागाव के हरहुआ बैजलपट्टी में आज राजेश्वरी महिला महाविद्यालय में छात्राओं की करियर काउंसलिंग की गयी।इस अवसर पर कॉलेज के प्रबंधक डॉक्टर राघवेंद्र नारायण सिंह ने छात्राओं को बताया गया की हर व्यक्ति की अपनी एक अलग पहचान होती है। लोग समाज में उसे उसकी पहचान, काबिलियत और उसके हुनर की बदौलत जानते हैं। जिंदगी को मुकाम देने के लिए अक्‍सर देखने में आता है कि युवा सही करियर या पढ़ाई के लिए सही क्षेत्र का चुनाव नहीं कर पाते। इससे उनके अंदर का व्यक्तित्व बाहर नहीं आ पाता। ऐसे में न तो वे अपने करियर और पढ़ाई में सफलता हासिल कर पाते हैं और न ही जिंदगी में संतुष्ट हो पाते हैं।सिर्फ एक ही करियर है, जो कि मेरे लिए पूरे तौर पर सही है |

प्रत्येक व्यक्ति की रुचियां अलग-अलग होती हैं। सभी के काम करने का तरीका अलग होता है। ऐसे में हरेक व्यक्ति अपनी रुचि, स्किल के मुताबिक करियर का चयन करने की कोशिश करता है, जो उसे संतुष्टि प्रदान करता हो। जैसे-जैसे आप बड़े होंगे, आप महसूस करेंगे कि एक से ज्यादा करियर हैं, जो आपके लिए जिंदगी की किसी स्टेज और स्थिति के अनुरूप आपके लिए सही होते हैं।ज़्यादातर छात्र/छात्राएँ इंटर के बाद ये सोचते हैं की उस क्षेत्र में सफलता तय है, जिसका क्रेज ज्यादा है या ज्यादातर लोग उसे ही अपना रहे हैं |

अक्‍सर आपके बड़े या परिचित आपको प्रचलित करियर के बारे में सलाह देते रहते हैं, चूंकि उनका उस क्षेत्र से ज्यादा वास्ता नहीं होता, ऐसे में वह आपको ऐसे करियर के बारे में ही बताते हैं, जिसके बारे में उन्होंने काफी सुन रखा है या सुन रहे होते हैं। वहीं अकसर यह भी देखने में आता है कि मेरा दोस्त उस क्षेत्र में जा रहा है तो मैं भी उस क्षेत्र में जाऊं। यह सही नहीं है । सफलता का कोई शॉर्टकट नहीं होता, खासकर करियर और विषय के चुनाव में। ऐसे में काउंसलिंग किसी भी छात्र के भविष्य का रोडमैप तैयार करने में सबसे ज्यादा असरदार होती है। वह छात्र को उधेड़बुन से बाहर निकालती है और सोच को सटीक बनाती है।इस अवसर पर महाविद्यालय के उपप्रबंधक अंशुमान सिंह, सत्यप्रकाश दुबे, अनुपमा श्रीवास्तव आदि लोग मौजूद थे।

रिपोर्ट – सर्वेश कुमार यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY