श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने बिहार के खगडि़या में मेगा फूड पार्क की आधारशिला रखी

0
229
केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर की फ़ाइल फोटो (credit-PIB)
केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर की फ़ाइल फोटो (credit-PIB)

खाद्य प्रसंस्‍करण क्षेत्र को प्रमुख रूप से बढ़ावा देने तथा फल एवं सब्जियों पर विशेष बल के साथ सप्‍लाई के प्रत्‍येक चरण में कृषि उत्‍पादों के नुकसान को कम करने के लिए खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्रालय देश में मेगा फूड पार्क योजना चला रहा है। मेगा फूड पार्क योजना का उद्देश्‍य खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग के लिए आधुनिक अवसंरचना उपलब्‍ध कराने के साथ-साथ मजबूत बैकवार्ड-फारवर्ड संपर्कों के साथ खेत से बाजार तक वैल्‍यू चेन बनाना है।

खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्रालय ने बिहार के खगडि़या में मेसर्स प्रिस्‍टाईन मेगा फूड पार्क, प्राईवेट लिमिटेड नाम के मेगा फूड पार्क को मंजूरी दी है। यह पार्क बिहार के खगडि़या जिले के मानसी गांव में 70 एकड़ भू-क्षेत्र में स्‍थापित किया जाएगा। केंद्रीय खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्री श्रीमती ह‍‍रसिमरत कौर बादल ने आज 6.08.2015 को मेसर्स प्रिस्‍टाईन मेगा फूड पार्क प्राईवेट लिमिटेड द्वारा आयोजित समारोह में पार्क की आधारशिला रखी। समारोह की अध्‍यक्षता बिहार सरकार के उद्योग मंत्री श्री श्‍याम रजक ने की। इस समारोह में खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग राज्‍यमंत्री साध्‍वी निरंजन ज्‍योति, केंदीय रेल राज्‍यमंत्री श्री मनोज सिन्‍हा तथा खगडि़या के सांसद चौधरी महबूब अली कैसर सम्‍मानित अतिथि थे।

खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग मंत्री ने बताया कि प्रिस्‍टाईन मेगा फूड पार्क की स्‍थापना 70 एकड़ के क्षेत्र में 127.6 करोड़ रुपये की लागत से की जाएगी। पार्क में आधुनिक अवसंरचना तथा सामान्‍य सुविधाओं के साथ केंद्रीय प्रसंस्‍करण केंद्र होगा। पार्क का प्रमुख उत्‍पादन क्षेत्रों से बैकवर्ड संबंध रहेगा और चार प्रसंस्‍करण केंद्र हाजीपुर (वैशाली), गुलाब बाग (पूर्णिया), कल्‍याणपुर (समस्‍तीपुर) तथा पराव (मुजफ्फरपुर) में स्‍थापित किए जाएंगे।

तैयार होने पर पार्क में आधुनिक प्रयोगशाला तथा रिफर वैन के साथ चार हजार एम टी ड्राई भंडार, दस हजार एम टी ग्रेन साइलोज, पांच हजार एम टी का बहु उत्‍पाद शीत भंडार, 10 टन/घंटा पैक हाऊस, 2 मीट्रिक टन/घंटा आईक्‍यूएफ तथा 1500 एम टी डीप फ्रीज सुविधा होगी। पार्क में सड़क, बिजली, एसटीपी/ईटीपी, प्रशासनिक भवन जैसी आधुनिक अवसंरचना होगी। 250 करोड़ रुपये की लागत से इस पार्क में 30 से 35 इकाइयां स्‍थापित की जाएंगी, जिसमें 500 करोड़ रुपये का सालाना कारोबार होगा। पार्क प्रत्‍यक्ष और अप्रत्‍यक्ष रूप से 6 हजार लोगों को रोजगार उपलब्‍ध कराएगा और इससे जल ग्रहण क्षेत्र के 30 हजार किसानों को लाभ होगा।

इस अवसर पर श्रीमती हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि खगडि़या जिले के मानसी का मेगा फूड पार्क, क्षेत्र में, खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग के विकास में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाएगा और विशाल कृषि उत्‍पादन क्षमता सम्‍पन्‍न राज्‍य में उद्यमि‍ता और रोजगार के अपार अवसर प्रदान करेगा। इससे बिहार के किसानों, उत्‍पादकों, खाद्य प्रसंस्‍करणकर्ताओं तथा उपभोक्‍ताओं को लाभ मिलेगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

thirteen + ten =