आसमां से गिरा बाज़, गाँव वालों में बना कौतूहल का विषय

0
168

baz kite
बलिया(ब्यूरो)- जहाँ एक तरफ पूर्व में अक्सर दिखाई देने वाले मांसाहारी बाज अब दुर्लभ होते जा रहे हैं। वही जिले के बालूपुर गांव के समीप अचानक जमीन पर गिरा एक बाज गांव वालों के लिए कौतूहल का विषय बना हुआ है।

दुर्लभ प्रजाति के इस बाज का वजन करीब 10 किलोग्राम है जो स्वास्थय व चलने में समर्थ तो है बावजूद इसके वह उड़ने में असमर्थ है। फिलहाल बाज गांव के समाजसेवी डॉक्टर शेषनाथ की सुपुर्दगी में है जिसे देखने वालों की भीड़ लग रही है। गांव के दक्षिण तरफ स्थित ताल के समीप शनिवार की शाम को उड़ता हुआ एक बाज आया।

कुछ क्षणों में उक्त बाज़ जमीन पर जो गिरा तो पुनः उठ नहीं पाया मौके से कुछ दूर खड़े चरवाहा बच्चे बाज को गिरते देख उसके समीप पहुंचे किंतु पहचान नहीं पाये कि वह किस जाति का पक्षी है। बच्चों ने इसकी सूचना तत्काल गांव के अन्य लोगों को दिया जिसके बाद मौके पर लोगों की भीड़ लग गई। बाद में गांव के ही डॉक्टर शेषनाथ यादव ने बाज को अपनी सुपुर्दगी में ले लिया इस संबंध में उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों को सूचित कर दिया है।
रिपोर्ट- संतोष कुमार शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY