एक बार फिर नहीं हो सकी सपा विधायक पर चल रहे बलात्कार के मुक़दमे की सुनवाई

0
76

सुल्तानपुर:- पूर्व सपा विधायक समेत अन्य पर लगे गैंगरेप आरोप मामले में शनिवार को भी सुनवाई नहीं हो सकी। नतीजतन स्पेशल जज श्यामजीत यादव ने प्रकरण की सुनवाई के लिए आगामी 22 मार्च की तिथि नियत की है।
मालूम हो कि वर्ष 2013 में जयसिंहपुर थाना क्षेत्र के रहने वाले राजेंद्र सिंह ने अपनी पुत्री के गायब होने एवं उसकी गलत ढंग से सुपुर्दगी ले लेने के संबंध में कोतवाली नगर में मुकदमा दर्ज कराया था।

इस घटना के करीब 18 दिन बाद लड़की बरामद हुई, जिसने अदालत में हुए बयान में सपा विधायक अरुण वर्मा, धीरेंद्र सिंह गुड्डू लाला ,अंजुम खान, मोनू खान आशुतोष सिंह के खिलाफ गैंगरेप का आरोप लगाया एवं अनीता सिंह व सिपाही पूनम यादव को भी उनका सहयोगी होना बताया। फिलहाल मामले की तफ्तीश के दौरान पुलिस ने आरोपी सपा विधायक अरुण वर्मा, धीरेंद्र सिंह, सिपाही पूनम यादव के खिलाफ सबूत न मिलने की बात कहते हुए इन्हें क्लीन चिट दे दी, जबकि अन्य पांच आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया। जिनके खिलाफ स्पेशल जज की अदालत में विचारण चल रहा है।

इस मामले में साक्ष्य के दौरान पीड़िता व उसके पिता ने सपा विधायक के पक्ष में भी बयान दिया है। फिलहाल अपने ही बयान को चुनौती देते हुए अभियोगी राजेंद्र सिंह ने विधायक को बतौर मुल्जिम तलब किए जाने को लेकर अर्जी दी है। इस अर्जी में पूर्व विधायक के साथ ही क्लीन चिट पाये धीरेंद्र सिंह व सिपाही पूनम यादव का नाम नहीं डाला गया है। शनिवार को इसी अर्जी पर सुनवाई के लिए तिथि तय की गई थी लेकिन अधिवक्ताओं के न्यायिक कार्य से विरत रहने के फिर सुनवाई टल गई, अदालत ने जेल में निरुद्ध मुल्जिमो को तलब करने का आदेश देते हुए सुनवाई के लिए आगामी 22 मार्च की तिथि नियत की है।

रिपोर्ट- संतोष कुमार यादव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here