विवादित थानेदारों की चौकी प्रभारियों पर दरियादिली, क्यों लगातार शिकायतें मिलने के बावजूद नहीं होती कार्रवाई?

0
246

उत्तराखंड: बीती रात जनपद में हुए दरोगाओं के तबादले को लेकर कई सवाल उठने शुरु हो गए हैं सवाल यह भी उठ रहा है कि जिन दरोगाओं की कार्यशैली पर लगातार विवादों में आती रही है इन तबादलों में आखिर उनपर दरियादिली क्यों दिखाई गई है|

किसे मिलेगी एसओजी की कमान- देहरादून में एसएसपी ने जनपद में थाना चौकी प्रभारियों के तबादले कर दिए गए इसके साथ ही एसओजी टीम के प्रभारी अशोक राठौर का भी तबादला चकराता कर दिया गया अब सवाल यह उठता है कि अब जिले की एसओजी की कमान किसके हाथ में आएगी? हाल-फिलहाल में ऐसा कोई दरोगा एसओजी के लिए उपयुक्त दिखायी नहीं दे रहा है जोकि वारदातों का खुलासा करने में तेज तर्रार हो और एसओजी की जो तेज तर्रार टीम है उसके साथ समन्वय भी बिठा सके| गौरतलब है जबसे अशोक राठौर ने एसओजी की कमान अपने हाथों में ली थी अपने कार्यकाल में 80 प्रतिशत वारदातों का खुलासा किया है| ऐसा भी नहीं है कि उनके कार्यकाल में कोई दाग ही एसओजी पर लगा हो उसके बावजूद उन्हें एसओजी प्रभारी से हटा कर चकराता थाने का प्रभार सोप दिया गया है| यह बहुत बड़ा चर्चित विषय बना हुआ है|

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY