भारी बारिश से कजली मेले में व्यवस्थाएं ध्वस्त, अधिकारी टेंट में बैठकर ले रहे चाय की चुस्कियां

महोबा(ब्यूरो) – ऐतिहासिक कजली मेले का आज से आरंभ हो गया है और मेले में दूर-दूर से दुकानदारों ने भी भारी संख्या में आकर मेले की शोभा में चार चांद लगाने का प्रयास किया लेकिन भारी बारिश के चलते पूरा मेला जलमग्न हो गया है | और जिन अधिकारियों के पास मेले की व्यवस्थाओं की जिम्मेवारी है वो अपने टेंट में बैठकर चाय की चुस्कियों के साथ पकौड़ी का मजा ले रहे हैं |

प्राप्त जानकारी के अनुसार मेले में आये प्रत्येक दुकानदार ने दो हजार से पाँच हजार रुपए भुगतान किए , लेकिन मेले की व्यवस्था में लगे प्रशाषनिक अधिकारियों ने बारिश से निपटने को लेकर कोई इंतजाम नहीं किया , शायद यही वजह है कि पहले ही दिन हुई बारिश से प्रशाषनिक व्यवस्थाओं की पोल खुल गई | जबकि पूर्व में तत्कालीन जिलाधिकारी डॉ. काजल ने प्रशाषन की तरफ से दुकानदारों को दुकानें व बिजली की व्यवस्था भी उपलब्ध कराई थी लेकिन अब तो ये हाल है कि दुकानों के लिए जगह पाने के लिए किसी पहुंच वाले कि सिफारिश या फिर कर्मचारियों का जेब खर्च भी अलग से देना पड़ता है |

अंधेर यह है कि भारी बारिश से पूरा मेला परिसर जलमंग हो गया और जहां एक तरफ दुकानदार किसी तरह दुकानों को संभालने में लगे थे वहीं दूसरी तरह अधिकारी मेले में फैली अव्यवस्थाओं को देखने की वजाय अपने टेंट में बैठकर चाय की चुस्कियां ले रहे थे | बड़ा सवाल यह है कि योगी सरकार बार- बार प्रशाषनिक अधिकारियों को चेतावनी दे रही है बावजूद इसके जिले के अधिकारी सुधारने का नाम नहीं ले रहे हैं | और सरकार की साख पर बट्टा लगाने का काम कर रहे हैं ।

रिपोर्टर – प्रदीप मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here