पाकिस्तान में हिन्दू लड़कियों को अगवा कर जबरन करवाया जा रहा इस्लाम कुबूल, गुरुवार को सड़कों पर उतरे हिन्दू

0
23095

hindus

पकिस्तान एक के बाद मुसीबत में फंसता जा रहा है, और मानवाधिकार का राग अलाप रहे पाकिस्तान की पोल खुलती जा रही है, पाक अधिकृत कश्मीर के बाद अब पाकिस्तान में बसने वाले १० प्रतिशत गैर मुस्लिम लोगों ने पकिस्तान के खिलाफ आवाज उठाई है,

इन लोगों ने पाकिस्तान द्वार गैर मुस्लिमों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ आवाज़ उठाते हुए गुरुवार को अल्पसंख्यक दिवस मनाया जिसमे अधिकतर हिन्दू समुदाय के लोग हैं, इन लोगों ने पाकिस्तान का असली चेहरा उजागर करते हुए कहा की पाकिस्तान की पीपुल्स पार्टी के पूर्व सांसद पीर अब्दुल हक उर्फ़ मियां मिट्ठू जबरन हिन्दुओं का धर्म परिवर्तित करवा रहे हैं,

लोगों ने बताया कि मियाँ मिट्ठू हिन्दू लड़कियों का अपहरण करवा कर जबरदस्ती उनका धर्म परिवर्तित करवाते हैं और इस मामले में उनपर अब तक 117 केस दर्ज हो चुके हैं पर कोई करवाई नहीं हुई |

उन्होंने बताया वैसे तो पाकिस्तान में हिंदुओं का शोषण कोई नई बात नहीं ह, पूरी दुनिया पाकिस्तान के हिंदू विरोधी चरित्र को पहचानती है लेकिन पाकिस्तान की सड़कों पर हिंदुओं का ये गुस्सा इसलिए भड़का है क्योंकि पिछले कुछ दिनों में हिंदुओं पर हमले की घटनाएं बढ़ गईं हैं, कराची में एक हिंदू लड़के सतीश का कत्ल और एक हिंदू डॉक्टर को गोली मारने की घटनाओं ने हिंदुओं को बगावत करने पर मजबूर कर दिया है |

इसे भी पढ़ें… POK में युवाओं ने लगाये पाकिस्तान विरोधी नारे, बोले, ‘कश्‍मीर बचाने निकले हैं, आओ हमारे साथ चलो’ के नारे लगाए

लेकिन पाकिस्तान जो कश्मीर मामले पर मानवाधिकारों का ढ़ोल पीट रहा है अपने ही देश में हो रही इस अपराध और शोषण पर खामोश है, और ऐसा करने वालों का सहयोग कर रहा है, पाकिस्तान में रह रही हिन्दू लड़कियों ने अपना दर्द बताते हुए कहा कि इस देश में लड़की होना ही गुनाह है और उसके बाद हिन्दू लड़की होना उससे भी बड़ा गुनाह, पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार नजम सेठी ने एक निजी चैनल से बात करते हुए बताया की अगर मुल्ला का बस चले तो ये जानवरों को भी इस्लाम कुबूल करवा दें, इनकी कट्टरता की वजह से ही पाकिस्तान पूरी दुनिया में बदनाम हो रहा है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY