23 जुलाई (आज का इतिहास)

0
742
अपने घोड़े पर सैन्य संचालन करते हुए नेपोलियन
अपने घोड़े पर सैन्य संचालन करते हुए नेपोलियन

23 जुलाई सन 1798 ईसवी को आज के ही दिन नेपोलियन ने मिस्र के क़ाहिरा नगर पर धावा बोल दिया था और न केवल धावा ही बोला गया था बल्कि आज के ही दिन नेपोलियन ने मिश्र की वर्षों पुरानी “ममालीक शासन श्रंखला” शासन ब्यवस्था का अंत करते हुए एक नए साम्राज्य की नींव डाल दी थी I नेपोलियन की इस विजय का मुख्यतौर पर श्रेय उसकी सेना की अद्वितीय बहादुरी और नेपोलियन के अद्भुद सैन्य संचालन के साथ ही साथ नेपोलियन की सेना के द्वारा प्रयोग में लाये गए आधुनिक अस्त्र शस्त्रों को भी दिया जाता हैं I

नेपोलियन की सेना ने आधुनिक अस्त्र-शस्त्रों का प्रयोग करते हुए इसकंदरिया बंदरगाह पर नियंत्रण कर लिया था और उसके बाद मिस्र  की राजधानी क़ाहिरा की ओर प्रस्थान किया था जिसकी जानकारी पहले से काहिरा के शासक मुराद बेग को हो चुकी थी I नेपोलियन की शक्तिशाली सेना को अपनी ओर बढ़ते जान मुराद बेग ने अपनी सेना के साथ नेपोलियन का मुकाबला करने के लिए नगर से बहार किले बंदी कर दी थी लेकिन यहाँ भी नेपोलियन को उसकी सेना के द्वारा प्रयोग में लाय गए आधुनिक अस्त्र शस्त्रों का ही फायदा मिला और इस युद्ध में नेपोलियन की विजय हुई I

इस विजय के साथ ही मिश्र की वर्षों पुरानी शासन व्यवस्था का अंत हो गया और नए साम्राज्य की स्थापना हुई I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY