जीत-हार फीका करेगी होली का रंग

0
296

बलिया(ब्यूरो)– विधानसभा चुनाव के प्रचार में प्रत्याशियों ने जिस तरह एक-दूसरे पर स्तरहीन शब्दबाण चलाए हैं, उससे आपसी रिश्तों में आयी कड़वाहट होली के दौरान और बढ़ सकती है। दरअसल, 11 मार्च को मतगणना और 13 को होली है। काउंटिंग के बाद एक ओर जहां विजयी पक्ष खुशियां मनाएगा, वहीं पराजय का सामना करने वाले रंगों से परहेज कर सकते हैं। इन परिस्थितियों में दो पक्षों में भिड़ंत की घटनाएं हो सकती हैं। इसके मद्देनजर बलिया पुलिस अधीक्षक आरपी सिंह ने जिले के सभी पुलिस अफसरों को अलर्ट जारी कर दिया है और सुरक्षा एजेंसियों को भी चौकन्ना कर दिया गया है।

बलिया विधानसभा चुनाव की मतगणना 11 मार्च को होनी है और 13 मार्च को होली है। माना जाता है कि जीत हासिल करने वाले पक्ष द्वारा जश्न मनाते हुए रंगों की बारिश की जा सकती है, जबकि पराजित पक्षों द्वारा रंग आदि से परहेज किया जा सकता है। ऐसे में टकराव की स्थिति बन सकती है। बलिया पुलिस अधीक्षक आर.पी सिंह ने बताया कि इसके लिए शासन ने पूरी तरह कमर कस ली है जिले के सभी जगह पुलिस के साथ पीएसी भी तैनात रहेगी और गड़बडी फैलाने वाले लोगो को बक्सा नही जायेगा।

बता दें कि विधानसभा चुनाव का परिणाम 11 मार्च को आना है। इसके अगले दिन 12 व 13 मार्च को होली है। प्रचार के दौरान चले स्तरहीन शब्दबाणों को प्रत्याशी भले ही भूल गए हों, लेकिन चुनावी हार-जीत के बाद समर्थक इसे नयी दिशा दे सकते हैं, जिससे होली का रंग बदरंग हो सकता है।

रिपोर्ट- संतोष कुमार शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here