होली के पर्व को शान्ति एव सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाये: सी.पी.सिंह

0
115


मैनपुरी(ब्यूरो)
– जिला मजिस्ट्ेट सी.पी.सिंह ने बताया कि होली का पर्व दि. 12/13 मार्च 2017 को परम्परागत तरीके से मनाया जाना प्रस्तावित है। होली के पर्व को शान्ति एव सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाये जाने हेतु नगर पालिका परिषद, नगर पंचायतों के अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वह अपने-अपने नगरीय क्षेत्र की नालियों एवं सड़कों की विशेष सफाई व्यवस्था कराने के साथ-साथ पानी की अवाधित आपूर्ति कराना सुनिश्चित करे। साथ ही आवारा पशुओं के स्वच्छन्द विचरण पर भी प्रभावी रोक लगाने हेतु पर्याप्त पुख्ता इन्तजाम किये जायें।

श्री सिंह ने जिला पूर्ति अधिकरी एव सभी उप जिलाधिकारियों आदेशित किया है कि होली के पर्व से पूर्व सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत चीनी,मिट्टी का तेल एवं अन्य खाद्यान्नों को समय से वितरण कराना सुनिश्चत करे। उन्होने अधिशासी अभियन्ता उ0प्र0पावर कारपोरेशन से अपेक्षा की है कि होली के पर्व पर नगर एवं कस्बों में अवाधित विद्युत आपूर्ति की जाये। उन्होने सभी उप जिला मजिस्ट्ेटों एवं क्षेत्राधिकारियेां को निर्देशित किया है कि अपने-अपने क्षेत्रान्तर्गत समस्त कार्यो एव ंव्यवस्थओं को सुचारू रूप से संचालन करने साथ-साथ पर्याप्त सर्तकता,सुरक्षा एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए पूर्ण उत्तरदायी होगें तथा जनपद के सभी संवेदनशील स्थलो पर पर्याप्त सतर्कता,सुरक्षा एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए ।

जिला मजिस्ट्ेट ने कहा है कि थानों में गठित शान्ति समितियेां की बैठके होली के पूर्व सम्पन्न कर होली के पर्व को शान्ति एवं सौहार्दपूर्ण वातावरण में सम्पन्न कराना सुनिश्चित करें। होली के त्योहार पर अराजक तत्वों द्वारा अल्प संख्यको के धार्मिक स्थलों पर रंग,मिट्टी,रंग भरे गुब्बारे व कीचड.आदि फेकने की कार्यवाही की जा सकती है। अत; ऐसे संवेदनशील स्थलों को चिन्हित कर समुचित पुलिस व्यवस्था सुनिश्चित की जाये इसके अतिरिक्त यह भी सुनिश्चित किया जाये कि होली के पर्व पर किसी भी दशा में केमिकल रंगों का प्रयोग न किया जाये। उन्होने कहा कि नवीन स्थलों ,ं विवादास्पद स्थलों पर होलिका दहन की अनुमति किसी भी दशा में प्रदान न की जाये साथ ही कोई नई परम्परा न पड़ने दें। कुछ स्थानों पर होली मिलन या अन्य समारोहों के नाम पर अश्लील कार्यक्रम आयोजित किये जाते है ,इस प्रकार के आयोजनों पर कड़ी नजर रखते हुए उन पर प्रभावी रोक लगाई जाये। होली के पर्व पर तैनात सभी मजिस्ट्ेट संवेदनशील स्थलों पर पर्याप्त सतर्कता ,सुरक्षा एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखें ताकि किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना घटित न हो सके।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY