समलैंगिकता कोई अपराध नहीं, बल्कि निजी आज़ादी है : आरएसएस

0
221

 

Dattatreya Hosabale, Joint General Secretary, RSS during a discussion on " Vision 2020: Does Hindutva Unite or Divide" at the India Today Conclave 2016 in New Delhi on March 17, 2016. Photo By Ramesh Sharma

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने समलैंगिकता पर खुलकर बड़ा बयान दिया है, इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के महासचिव दत्तात्रेय होसबोले ने समलैंगिकता पर बोलते हुए हुए कहा कि समलैंगिकता कोई अपराध नहीं हैं यह लोगों का निजी मामला है इसलिए आरएसएस को समलैंगिकता पर बहस करने की ज़रुरत नहीं है |
उन्होंने कहा “किसी का भी सेक्स चुनाव अपराध नहीं हो सकता जबतक वह दूसरों के जीवन पर असर नहीं डालता |
भारतीय दंड संहिता में समलैंगिकता को अपराध माना गया है और इस अपराध के लिए दस साल तक की सजा का प्रावधान है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here