ईमानदार रिक्शाचालक आबिद ने खुद से पुलिस के पास जाकर सड़क पर मिले 1 लाख 17 हज़ार लौटाए

0
221
फोटो सोर्स - बीबीसी न्यूज़
फोटो सोर्स – बीबीसी हिंदी

नोटों से भरा थैला (1 लाख 17 हजार रुपए ) भी आबिद और उनकी पत्नी के ईमान को टस से मस न कर सका | 28 साल के आबिद जयपुर में किराए का रिक्शा चलाकर अपना गुजर बसर करते है आबिद अपनी पत्नी और तीन साल की बच्ची के साथ किराए के मकान में रहते हैं | आबिद कहते हैं “एक रिक्शे की कीमत 15,000 से भी अधिक है, खाने और मकान के किराए के बाद इतने पैसे बचते ही नहीं हैं कि वो अपना खुद का रिक्शा खरीदने के बारे में सोच सकें |

बुधवार की शाम जब आबिद जयपुर के चौड़ा रास्ता बाज़ार से गुजर रहे थे उन्हें नोटों से भरा एक थैला मिला तो वो उसे उठाकर सीधे घर पहुँच गए और अपनी पत्नी अमीना से सलाह मशविरा किया | आबिद और उनकी पत्नी ने फैसला किया की इन पैसों पर हमारा कोई हक नहीं है और हमें कोशिश करनी चाहिए की ये पैसे जिसके भी हैं वापस उसके पास पहुँच सकें और इस फैसले के साथ दोनों पुलिस आयुक्त जंगा श्रीनिवास के पास जाकर पैसे पुलिस को सौंप दिए |

आबिद कहते हैं “अमीना ने बहुत जोर दिया और कहा गैर की दौलत लेना गुनाह है, पैसे लौटाने के बाद हम बड़ा सुकून महसूस कर रहे हैं”

आबिद और उनकी पत्नी की यह कोशिश हमारे लिए प्रेरणा है, और यह दर्शाती है की ईमानदारी का सम्पन्नता से बल्कि नियत से आती है, अखंड भारत परिवार आबिदऔर उनकी पत्नी को उनकी इस कोशिश के लिए सलाम करता है |

अखंड भारत परिवार बेहतर भारत निर्माण के लिए प्रयासरत है, आप भी इस प्रयास में फेसबुक के माध्यम से अखंड भारत के साथ जुड़ें, आप अखंड भारत को ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

14 − 4 =