कैसे पूरा होगा खुले में शौच मुक्त जिले का सपना

0
114

जलालाबाद(कन्नौज ब्यूरो)- जहाँ एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर उ0 प्र0 के तेज तर्रार मु. मंत्री योगी आदित्य नाथ एवम् सरकारी मशीनरी स्वच्छ भारत अभियान के लिए लगातार प्रयासरत हैं और इस अभियान पर भारत सरकार करोड़ो रु. खर्च कर रही है इसके बाद भी शिक्षा बिभाग की अनदेखी के चलते ज्यादा तर स्कूलो में बने शौचालय शो पीस साबित हो रहे हैं|

बताते चले कि जलालाबाद विकास खंड के मसीद पूर्वा के प्राथमिक विद्यालय का शौचालय कई महीनो से साफ नही हुआ है| शौच के लिए बच्चे बाहर खेतो में जाते हैं इनता ही नही स्कूल में बच्चों के हाथ धोने के लिए साबुन भी नही रखा जाता है यह है स्वच्छ भारत की जमीनी हकीकत! आखिर कैसे पूरा होगा स्वच्छ भारत एवम् खुले में शौच मुक्त जिला बनाने का सपना जो जिलाधिकारी ने देखा है| यह तो सिर्फ एक बानगी है हकीकत इससे भी ज्यादा खराब है / स्वच्छता के प्रति शिक्षा विभाग कभी कभार रैली निकाल कर अपने कर्तब्यो की इति श्री कर लेते हैं|

क्या जिलाधिकारी का सपना खुले में शौच मुक्त जिला बनाने शिक्षा विभाग पूरा करने में सहयोग करेगा यह बहुत ही यक्ष प्रश्न है| शिक्षा की बात की जाये तो कक्षा 5 के वच्चे 5 और 2 का योग नही बता पाते| मु. मंत्री का नाम पूछने पर नरेंद्र मोदी बताया / मिड डे मील का हाल यह है कि रसोइया आराम फरमाती है रसोई में कुत्ते आराम करते हैं| बच्चों को फल और दूध नसीब नही होता है| भाजपा की सरकार बनते ही तेज तर्रार मु. मंत्री योगी जी आय दिन नए नियम कायदे लागू कर रहे है| वही अधिकारियो से लेकर कर्मचारी तक पशोपेश में हैं लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियो पर शायद योगी जी का आदेश लागू नही होता है और न ही इन्हे कोई भय है / बात करने पर ब्लाक समन्वयक अनूप सिंह ने कहा कि प्रकरण गम्भीर है स्थलीय सत्यापन होगा विधिक कार्यवाही तय है|

रिपोर्ट- सुरजीत सिंह 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here