अपनी यौन शक्ति को बढाएं कई गुना अधिक, इस आयुर्वैदिक तरीके से

1
4740

प्रतीकात्मक फोटो (photo credit huffingtonpost.com)
प्रतीकात्मक फोटो (photo credit huffingtonpost.com)

आजकल की भागदौड भरी जिंदगी में व्यक्ति को अपने बारे में सोचने का वक्त बहुत ही कम मिल पाता है | ऐसे में यदि उसकी शक्ति छिन रही है और खासकर के कहें कि उसके पौरुषत्व में कोई दिक्कत आ रही है तो उसे नकारा नहीं जा सकता है | अक्सर यह देखा गया है कि लोग अपनी पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाते है और उन्हें निराशा का सामना करना पड़ता है | लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे है कुछ ऐसे आयुर्वैदिक उपायों को बारे में जिन्हें अपनाकर अपनी यौनशक्ति को कई गुना अधिक बढ़ा सकेंगे और सेक्स का कई गुना अधिक आनंद उठा सकेंगे |

यौन शक्ति कमजोर होने के कारण –
यदि हम किसी भी समस्या का इलाज़ करने से पहले यह जान लें कि आखिर यह समस्या क्यों उत्पन्न हुई है तो हम बेहद आसानी से उस समस्या से बच सकते है और पुनः हमें उस समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा |

यौन शक्ति के कमजोर होने के कारण यह भी हो सकते है कि आप असमय सम्भोग कर रहे हो | या फिर आप अप्राकृतिक तरीके सेक्स करते समय अपनाते हो | खान-पान में कमी भी इसका एक कारण हो सकती है | इसके अलावा जो लोग अत्यधिक नशा का सेवन करते है उनमें भी यौन क्षमता गड़बड़ हो जाती है | इसके कुछ और भी मनोवैज्ञानिक कारण हो सकते है जैसे व्यक्ति के भीतर आत्मविश्वास की कमी भी यौन शक्ति को कमजोर करने का एक कारण हो सकती है |

आयुर्वैदिक उपचार –
वसंतकुसुमाकर रस 1 से 3 ग्राम तक
त्रिवंग भस्म- 5 ग्राम तक
अभ्रक भस्म- 10 ग्राम
स्त्री रसायन वटी – 60 ग्राम
और चंद्रप्रभा वटी – 60 ग्राम

इन सभी आयुर्वेदिक औषधियों की छोटी-छोटी गोली बनाकर रोजाना दो गोली सुबह और दो गोली शाम के समय खाए | यह उपचार नपुंसकता दूर करने का सबसे उत्तम ईलाज है | इस विधि के उपयोग के आलावा फलधृत नामक औषधि की एक-एक चम्मच की मात्रा को गाय के दूध के साथ सुबह के समय और शाम के समय खाएं | इससे बहुत लाभ मिलता है |

नोट- कोई भी दवा लेने से पहले एक बार अपने डाक्टर से सलाह अवश्य ले लें |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

1 COMMENT

  1. It’s perfect time to make a few plans for the future and it is time to
    be happy. I have read this publish and if I may just I desire to
    counsel you some fascinating things or suggestions.
    Maybe you could write next articles referring to this article.
    I want to read even more issues approximately it!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here