मानवाधिकार जागरुकता सेमिनार का हुआ आयोजन

0
161

manvadhikar event
बलिया ब्यूरो : नगर के टाउन इण्टर कालेज के मैदान में रविवार की देर शाम न्यायमूर्ति श्री एस अहमद की अध्यक्षता में डी एस एच आर डी मानवाधिकार के तत्वावधान में मानवाधिकार जागरुकता सेमिनार का आयोजन किया गया । सेमिनार का शुभारंभ मुख्य अतिथि माननीय न्यामूर्ति आर के रस्तोगी एवं न्याय मूर्ति माननीय एम अहमद ने सयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया । सेमिनार को संबोधन करते हुए मुख्यअतिथि न्यायमूर्ति आर के रस्तोगी ने कहा कि लोगों को जागरूक करके भी मानवाधिकार उलंघन को रोका जा सकता है। कहा कि कोर्ट ने व्यवस्था की है कि किसी व्यक्ति के साथ मानवाधिकार का हनन होता है तो उसे मानवाधिकार न्यायलय के माध्यम से भी न्याय मिलती है।

विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय चेयरमैन आर के गुप्ता ने कहा कि डीएसएचआरडी मानवाधिकार पूरे भारत में काम कर रही है।कहा कि कोई कितना भी बलवान,धनवान व्यक्ति हो और किसी व्यक्ति का उत्पीड़न कर रहा है पीड़ित व्यक्ति दस रुपए के स्टांप पर समस्या को जिला कार्यालय पर दें उसे न्याय दिलवाया जाएगा।कहा कि पुलिस किसी व्यक्ति का उत्पीड़न कर रही है तो ऐसा नहीं होने दिया। जाएगा।सेमिनार की अध्यक्षता कर रहे न्यायमूर्ति एम अहमद ने कहा कि मानवाधिकार से जुड़े हुए मानव के अधिकारों में जीने का अधिकार है,। मुख्य अतिथि मा. न्यायमूर्ति आर के रस्तोगी ने विकलांगता ,पत्रकारिता एवं मानवाधिकार क्षेत्र में विशेष योगदान को देखते हुए श्याम प्रकाश शर्मा को प्रशस्ति पत्र,स्मृति चिन्ह एवं अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया। सेमिनार में पुलिसकर्मी ,गायक कलाकार सुनिता पाठक,हरिनरियन हलचल,शिवम श्रीवास्तव को भी पुरस्कृत किया गया ।जिलाध्यक्ष रामसेवक ने आगन्तुको के प्रति आभार प्रकट किया ।इस मौके पर राम निवास गुप्ता , एडवोकेट राजेंद्र चौधरी अखिल बर्मा,फतेहबहादुर,धनपति राम,चन्द्रावती बर्मा,सुभाष बर्नवाल आदि रहे ।अध्यक्षता न्यायमूर्ति मा. एम अहमद एवं संचालन मोहन सिंह वर्मा ने किया ।

रिपोर्ट–संतोष कुमार शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here