किसी और सैनिक की विधवा के साथ ऐसा ना हो

0
950

hemraj's wife

मै शहीद हेमराज की पत्नी हूँ, 8 जनवरी 2012 को कश्मीर में पाकिस्तानी सेना ने मेरे पति का सर धड से अलग क्र दिया, सारा देश उनके लिए रोया, यह वाकया करीब एक हफ्ते तक मुख्य समाचार बना रहा, मेरे पति की अफसोसजनक मृत्यु के बाद नरेन्द्र मोदी जी ने कहा “शहीद हेमराज की कुर्बानी बेकार नही जाएगी हम सत्ता में आने के बाद शहीद हेमराज के एक सर के बदले 100 पाकिस्तानी जवानों के सर काटकर लायेंगे”

भारत सरकार ने मेरे परिवार के बेहतर जीवन के लिए एक जमीन का टुकड़ा, एक पेट्रोल पंप, शहीद हेमराज के तीन स्मारक और कुछ पैसे देने की घोषणा की, लगभग 3 वर्षों से मै लगातार हर हफ्ते ऑफिस में सिर्फ यह सुनने जाती हूँ “साहब नहीं हैं कल आना” मै एक ऐसे देश में रह रही हूँ जहाँ मैंने खुद के 2.5 लाख रुपए खर्च करके मथुरा में अपने पति के तीन स्मारक बनवाए ताकि लोगों को सेना में भारती होने की प्रेरणा मिल सके, मै बस इतना कहूँगी “मेरे जीवन में अब कुछ नहीं बचा है, मै किसी तरह अपना जीवन काट लूंगी पर कृपा करके किसी दुसरे भारतीय सैनिक की विधवा से ऐसा बर्ताव न करें |”

Via – Humans Of India

अखंड भारत परिवार बेहतर भारत निर्माण के लिए प्रयासरत है, आप भी इस प्रयास में फेसबुक के माध्यम से अखंड भारत साथ जुड़ें, आप अखंड भारत को ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here