सजदे में सर झुकता तेरे ये मौला, मेरे गुनाहों को कर दे माफ

0
128
प्रतीकात्मक(Credit-internet)

कमालपुर/चंदौली(ब्यूरो)- धीना थाना क्षेत्र के डेढ़गाँवा गांव में आयोजित दो दिवसीय ख्वाजा गरीब नवाज कांफ्रेंस (प्रांतीय सूफी सम्मेलन )सोमवार की रात कव्वाली के साथ सम्पन्न हुआ। इसमे सैकड़ो की संख्या में मुस्लिम व हिन्दुओ ने करीम में शिरकत कर गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल पेश किया। कव्वाल हजरातों ने अपने कला से देर रात तक लोगो को रोककर शमा बाधने का काम किया।

डेढ़गावा गांव में रविवार व सोमवार की रात दो दिवसीय ख्वाजा गरीब नवाज कांफ्रेंस (प्रांतीय सूफी सम्मेलन) कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।  इसमे रविवार की रात प्रमुख सूफी वक्ताओं के द्वारा तकरीर (प्रवचन) व सोमवार को प्रमुख कव्वाल हजरात द्वारा कव्वाली कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

प्रत्येक वर्ष होने वाले कार्यक्रम में गांव के हिन्दू व मुस्लिम परिवार के लोग आपसी सहयोग से कार्यक्रम को करते है।जबकि सोमवार की रात कव्वाल बच्चा रशीद चिश्ती सलीमी गिरिडीह व बच्चा वाहिद सलीमी चिश्ती गिरिडीह के बीच रोमांचक मुकाबला हुआ। इसमे मुझसे हिन्दू व मुस्लिम की बाते न करना, मैं तो इंसान हुं इंसान की बाते करना, पहले इंसान के चेहरे की तिलावत कर ले, बाद में गीता व कुरान की बाते करना, नफरत के कीटाणुओं को जड़ से मिटाना होगा, पैगाम मुहब्बत जमाने को सुनाना होगा, हर चंद जुदा रंग से हम लोग है लेकिन, हम एक है मिलकर आवाज लगाना होगा, सुनकर खूब वाह वाही लूटने का काम किया।

दोनो कलाकर अपने कव्वाली के माध्यम से लोगो को रात भर कार्यक्रम में रोकने में सफल रहे। जबकि एक कव्वाल के बातो का दूसरे कव्वाल ने बेहतरीन तरीके से जबाब देने काम करता रहा। इससे स्टेज पर उपस्थित लोगों की ओर से इनाम की बारिश होने लगी। दोनो कलाकारों ने एक से एक बढ़कर कव्वाली सुनाकर महफिल में शमा बांध दिया।

जबकि कलाकारों ने अपने कार्यक्रम में हिन्दू मुस्लिम एकता पर बल देने का भरपूर प्रयास किया। जिसमें दोनों कलाकार अपने प्रयास में काफी हद तक सफल भी रहे।कार्यक्रम में रात भर धीना थानाध्यक्ष अखिलेश सिंह अपने हमराहियों संग चक्रमण करते रहे।

इस मौके पर रविन्द्र सिंह मुन्ना, मुहम्मद कादिर सलीमी, मुन्ना तिवारी, मुर्तुजा कादिरी, रइस कादिरी, रसूल कादिरी, डॉ जब्बार नियाजी, नफीस खान, गफ्फार अली आदि रहे।

रिपोर्ट-कुलदीप यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY