मै खुद लॉ एंड ऑर्डर की मॉनिटरिंग करूंगा : योगी आदित्यनाथ

0
193


लखनऊ  ब्यूरो : कानून व्यवस्था को लेकर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी मुस्तैद दिख रहे हैं, इसी कड़ी में उन्होंने राज्य में अपराध से जुड़ी खबरों की लिस्ट शुक्रवार को मंगाई | इसके बाद तमाम अपराधों में पुलिस वालों की मिलीभगत की खबरों पर वे भड़क गए | सीएम ने इसके बाद सूबे के डीजीपी और गृह सचिव को जमकर लताड़ लगाई, इसके साथ ही दोषी पुलिसवालों पर तुरंत कार्रवाई के निर्देश दिए |

चेताते हुए कहा ‘अब मैं खुद लॉ एंड ऑर्डर की मॉनिटरिंग करूंगा
इसके साथ ही सीएम योगी ने सबको चेताते हुए कहा ‘अब मैं खुद लॉ एंड ऑर्डर की मॉनिटरिंग करूंगा.’ योगी ने कहा ‘मैं सब देख रहा हूँ और अब पानी सर से ऊपर जा रहा है.’ दरअसल, प्रदेश में हुई चार आपराधिक घटनाओं की मीडिया में खासा चर्चा हुई है. इसे लेकर पुलिस महकमें में अफरातफरी मची हुई है. इसके साथ ही पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठे हैं. यह रही वो चार घटनाओं जिससे सीएम का चढ़ा पारा

1. पहली घटना मथुरा की है जहाँ दो हिस्ट्रीशीटरों ने दो पुलिस अफसरों को सम्मानित कर दिया. इस कार्यक्रम की तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हो गयी सीएम के आदेश पर चौकी प्रभारी सुभाष चंद्र और ASI विनोद तोमर सस्पेंड कर दिए गए हैं

2. दूसरी घटना हाथरस की है जहाँ एक लड़का एक लड़की को घर से भगा रहा था. दोनों के पास पांच लाख रुपये थे. एक जगह दो होमगार्डों ने चेकिंग की और डेढ़ लाख रुपये ले लिए. लड़का लड़की बाद में आगरा से बरामद हुए और उनके घर वालों की शिकायत पर तलाशी में होमगार्डों से रुपये बरामद हुए. दोनों को गिरफ्तार कर जेल दिया गया.

3. तीसरी घटना मैनपुरी की है जहां राधारमण नाम का एक दारोगा लगातार एक लड़की को व्हाट्सऐप पर अश्लील मैसेज भेज रहा था. शिकायत करने पर जेल भेजने की धमकी दे रहा था. बात ऊपर पहुँची तो दारोगा को सस्पेंड कर उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू हो गयी है

4. चौथी घटना गोंडा की है. जहां शराब पी कर एक सिपाही रोडवेज कर्मियों को पीट रहा था. ये मामला आपसी रंजिश का निकला और सिपाही को लाईन हाजिर कर दिया गया है. उपरोक्त सभी चार मामलों की जांच वरिष्ठ अधिकारी कर रहे हैं

रिपोर्ट – मिंटू शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here