राष्ट्रगान मेरे ह्रदय में सम्मान की भावना को जन्म देता है – फरहान अख्तर

0
223

гликемический индекс фруктов таблица मुंबई- मशहूर निर्माता-निर्देशक, एक्टर फरहान अख्तर ने कहा है कि जब भी कहीं भी यदि उन्हें राष्ट्रगान की ध्वनि सुनाई पड़ती है वह खड़े हो जाते है ऐसा वह इसलिए कभी नहीं करते है क्योंकि कोई उन्हें इसके लिए कहता है या फिर उनके ऊपर किसी का कोई दबाव रहता है I भाग मिल्खा भाग में मिल्खा सिंह की भूमिका निभाने वाले इस मशहूर निर्माता-निर्देशक, एक्टर ने कहा है कि ऐसा वह इसलिए करते है क्योंकि राष्ट्रगान बजने से उसकी ध्वनि को सुनने के बाद उनके ह्रदय में सम्मान की भावना उत्पन्न होती है I

गौरतलब है कि हाल ही में महाराष्ट्र राज्य के एक सिनेमाहाल में जब राष्ट्रगान बज रहा था तब एक मुस्लिम परिवार राष्ट्रगान के सम्मान में खड़ा नहीं हुआ था I जिसकी वजह से वहाँ पर मौजूद कुछ लोगों ने उस परिवार को सिनेमाहॉल से बाहर निकाल दिया था I

महाराष्ट्र में हुए इस मामले के बाद पूरे देश के गणमान्य व्यक्तियों और साधारण व्यक्तियों तथा सोशल मीडिया पर यह चर्चा का विषय बन चुका है और इसी मामले में फरहान अख्तर ने अपनी प्रतिक्रिया दी थी I

फरहान अख्तर ने कहा है कि जब भी राष्ट्रगान बजता है मै खड़ा हो जाता हूँ क्योंकि राष्ट्रगान मेरे ह्रदय में सम्मान की भावना को जन्म देता है I फरहान ने कहा है कि सुप्रीमकोर्ट का आदेश है कि जब भी कही पर राष्ट्रगान बजेगा तो उसके सम्मान में वहाँ पर मौजूद लोगों को राष्ट्रगान के सम्मान में खड़ा होना पड़ेगा I

फरहान ने कहा है की यह उस व्यक्ति के ऊपर निर्भर करता है कि वह सुप्रीमकोर्ट के इस आदेश का पालन करना चाहता है या नहीं करना चाहता है, उन्होंने कहा है कि यदि कोई मुझसे इस सम्बन्ध में मेरी व्यक्तिगत राय पूछे तो मै तो सिर्फ इतना कहूँगा कि मै जब भी कहीं राष्ट्रगान सुनूंगा तो मै उसके सम्मान में खड़ा हो जाऊंगा क्योंकि यह मेरे ह्रदय में सम्मान का भाव जाग्रत करता है I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

twelve − 5 =