चीन के साथ बढ़ते तनाव को मद्देनजर रखते हुए भारतीय वायु सेना ने चीनी बॉर्डर से महज़ 29 किमी की दूरी पर उतार दिया ग्लोबमास्टर C-17

0
4586

c-17-globemaster

नई दिल्ली- भारतीय वायु सेना ने आज एक और बड़ी उपलब्धि अपने खाते में दर्ज कर ली है और यदि हम सामरिक द्रष्टि कोण से इसे देखते है तो चीन से लगी भारतीय सीमा पर भारत और चीन के मध्य लगातार बढ़ते सीमा विवाद को देखते हुए भी यह एक बेहद महत्त्वपूर्ण सफलता मानी जा सकती है |

चीनी बॉर्डर से महज़ 29 किमी की दूरी पर उतार दिया C-17 ग्लोबमास्टर –
दरअसल आपको बता दें कि भारतीय वायु सेना ने आज अरुणांचल प्रदेश में चीन से लगती हुई सीमा पर भारतीय वायु सेना के सबसे बड़े परिवहन विमान C-17 ग्लोबमास्टर को महज़ 4200 फिट के लैंडिंग एरिया के रनवे पर उतार दिया है |

यह भी बताते चले कि अरुणाचल प्रदेश में पश्चिम सियांग जिले के मेचुका स्थित इस एडवांस लैंडिंग ग्राउंड की उंचाई समुद्रतल से 6200 फीट की ऊंचाई पर स्थित है | यहाँ पर सिर्फ 4200 फीट का लैंडिंग एरिया है, फिर भी C-17 ग्लोबमास्टर विमान की ट्रायल लैंडिंग में सफलता मिली | बता दें की भारत का यह पूर्वी इलाका आज भी मूलभूत परिवहन संसाधनों से दूर है | आज भी इस इलाके से ट्रेन या हवाई यात्रा के लिए पहले सड़क से डिब्रूगढ़ तक का 500 किलोमीटर का सफर सड़क मार्ग से तय करना पड़ता है |

भारतीय वायु सेना की ताकत में होगा इजाफा –
ज्ञात हो की भारतीय वायु सेना के इस सबसे बड़े विमान C-17 ग्लोबमास्टर के चीनी बॉर्डर के इतने नजदीक सफलतापूर्वक लैंड करने के बाद सामरिक द्रष्टिकोण से भारत की स्थित में काफी मजबूती आएगी | अब भारतीय सेना को आपातकाल के दौरान बेहद आसानी से ही चीनी बॉर्डर के नजदीक उतारा जा सकता है |

बता दें की C-17 ग्लोबमास्टर को भारतीय वायुसेना में वर्ष 2013 में शामिल किया गया था | इस विमान ने एयरफोर्स के बेड़े में रूस के आईएल-76 की जगह ली थी | आईएल-76 की क्षमता करीब 40 टन वजन ढोने की है | यह विमान एक ही बार में सेना के कम से कम 150 सुसज्जित सैनिकों को रणक्षेत्र में उतारने में सक्षम है | साथ ही यह विमान एक ही बार में सेना के कई भारी भरकम टैंकों को भी युद्ध क्षेत्र में उतार सकता है |
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here