जियो ने लगाया आईडिया को सात सौ करोड़ का चूना

0
66

मुंबई- मुकेश अम्बानी की सेलुलर कंपनी जियो ने पिछले कुछ महीनों के भीतर ही देश और विदेश की की बड़ी-बड़ी कंपनियों और उनके मालिकों को सोचने पर मजबूर कर दिया है | न केवल सोचने के लिए अपितु जियो की रफ़्तार ने इन बड़ी कंपनियों को बड़ी चपत भी लगाई है | दरअसल आपको बता दें कि देश की एक प्रतिष्ठित कंपनी आइडिया को इससे बड़ा नुकसान का सामना करना पड़ा है | आइडिया को पिछले 2 तिमाहियों में लगभग 7 सौ करोंड रूपये का शुद्ध घाटा हुआ है |

मीडिया में आई रिपोर्ट्स की माने तो आइडिया सेल्युलर को मार्च में समाप्त हुई चौथी तिमाही में 325.6 करोंड रूपये का शुद्ध घाटा उठाना पड़ा है | जबकि पिछले साल इसी तिमाही में आइडिया को 449.2 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था |

कंपनी के तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि कंपनी को लगातार दूसरी तिमाही में घाटे का सामना करना पड़ा है | इससे पहले अक्टूबर-दिसंबर 2016 तिमाही में भी कंपनी को 383.87 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध घाटा हुआ था | जबकि इससे पहले अक्टूबर-दिसंबर 2015 में उसे 659.35 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था | समीक्षावधि में कंपनी का कुल राजस्व 13.7 प्रतिशत घटकर 8,194.5 करोड़ रुपये रहा जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में 9,500.7 करोड़ रुपये था |

गौरतलब है कि पिछले साल सितम्बर में रिलायंस ने जियो के नाम से एक नेटवर्क की शुरुआत की थी जिसमें रिलायंस ने मार्च तक सभी उपभोक्ताओं को फ्री 4जी कॉल और इन्टरनेट की सुविधा प्रदान की थी | अपनी इसी स्कीम के तहत रिलायंस जियो ने अकेले ही भारत में टेलीकाम सेक्टर के 12 फीसदी मार्किट को कैप्चर कर लिया है | यही कारण है कि देश की बड़ी-बड़ी कंपनियों की बत्ती गुल हो गयी है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here