झांसी में नहीं रुक रहा अवैध खनन

0
77


मऊरानीपुर(झाॅसी)- प्रदेश मे सरकार बदल जाने के बाद भी अवैध बालू घाटों से खनन रूकने का नाम नही ले रहा है। जिससे उत्तर प्रदेश सीमा क्षेत्र के ग्रामो के सम्पर्क मार्ग क्षतिग्रस्त हेाकर गडडों मे तब्दील हो गये है। दिन रात ट्रको की आवा जाही से ग्रामीण क्षेत्र के मार्ग धूल के गुवार से पटे पडें है। निकलने वाले वाहनों के कारण कई वार ग्रामीणों की नोक झोक भी हुयी। जिससे ग्रामीणों ने एक राय होकर दो तीन वार बडी संख्या मे अवैध बालू से भरे ट्रकों को तहसील प्रशासन के द्वारा भी पकडवाये। लेकिन तहसील प्रशासन की उदासीनता के चलते अवैध खनन बडे पैमाने पर फल फूल रहा हेै। जिसे विना किसी रोक टोक के दर्जनों वालू से भरे वाहन सडको पर खुले आम फर्राटा भरते नजर आते है।

उल्लेखनीय है कि म.प्र. सीमा स्थित धसान, उर नदी के विजयपुरा, टोरिया, बालू के घाट से अन्य जिलों से भारी संख्या मे बालू भेजी जा रही हैे। लेकिन उत्तर प्रदेश के रास्ते एवं झाॅसी जिले के सुदूर ग्राम टकटौली, मैलवारा, चुरारा, बड़ा गांव होते हुए बालू से ट्रकों की आवाजाही एकाएक बढ़ जाने से उपरोक्त ग्रामों के ग्रामीण सकरे सम्पर्क मार्ग पर से वाहन निकालने मे धूल से परेशान हो रहे है। साथ मे सडक क्षतिग्रस्त हो गयी है। जबकि प्रदेश सरकार एवं उच्च न्यायालय की रोक के बाद भी अवैध बालू, मुरम, पत्थर ,खनन बगैर पटटे के नही होगी। फिर भी सम्बंिधत विभाग व मऊरानीपुर प्रशासन के रहमो करम पर उक्त खनन सत्ता बदलने के बाद भी जारी बना हुआ है। उपरोक्त ग्रामेां के लोगों ने बताया कि अगर इस पर शीध्र अकुंश नही लगता है। तो सीधी शिकायत मुख्यमंत्री से की जायेगी।

रिपोर्ट – रवी परिहार

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY