यूपी के मंत्री 15 दिनों के भीतर ही देंगे अपनी चल-अचल संपत्ति का पूरा विवरण

0
144

लखनऊ- उत्तरप्रदेश के 21 वें मुख्यमंत्री के तौर पर एक सन्यासी ने शपथ ले ली है और उसका असर भी कामकाज में दिखने लगा है | बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड लीडर माने जाने वाले योगी आदित्यनाथ ने कल रविवार दोपहर लखनऊ के स्मृतिउपवन में मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है | शपथ लेने के बाद उन्होंने अपने कैबिनेट की पहली परिचय बैठक की | इस दौरान मुख्यमंत्री ने सीधे अपने कैबिनेट मंत्रियों को निर्देश दिए है कि मात्र 15 दिनों के भीतर वे सभी अपनी चल-अचल संपत्ति का पूरा विवरण सरकार को और भारतीय जनता पार्टी को दें |

मंत्रियों ने एक दूसरे को दिया अपना परिचय –
आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट की पहली बैठक में यूपी के सभी मंत्रियों ने एक दूसरे से अपना परिचय दिया है | बैठक के बाद सूबे के मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने और सिधार्थनाथ सिंह ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए इस बात की जानकारी दी है | दोनों ही मंत्रियों ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान कहा है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के विकास के एजेंडे को और एक पारदर्शी सरकार स्थापित करने के संकल्प को पूरा करने के लिए योगी जी कटिबद्ध है और इसी के चलते उन्होंने सबसे पहले आने मंत्रियों को निर्देश दिए है कि वे अपनी-अपनी संपत्ति का विवरण सरकार और संगठन के पास उपलब्ध करवाए | सूत्रों के हवाले से प्राप्त खबर के आधार पर बताया जा रहा है कि मंत्रियों को अपनी पूरी चल और अचल संपत्ति की जानकारी सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निजी सचिव को देनी होगी |

नए विधायकों के लिए ट्रेनिंग का भी आयोजन किया जाएगा-
यूपी कबिनेट के मंत्रियों ने कहा है कि नए विधायक जो भी चुन कर आये है उन सभी के लिए सरकार की तरफ से ट्रेनिंग सेशन का भी आयोजन किया जाएगा | इस ट्रेनिंग सेशन में नए विधायकों की क्लास लेने के लिए केंद्रीय मंत्री, भारतीय जनता पार्टी के कई बड़े नेता भी शामिल हो सकते है | साथ ही साथ यह भी बताया जा रहा है कि नए विधायकों की ट्रेनिंग के लिए ही कैबिनेट मंत्री श्री सुरेश खन्ना के नेत्र्तत्व में एक कमेटी का भी गठन किया जाएगा जो इस बात का पता लगाने की कोशिश करेगी कि नए विधायकों की ट्रेनिंग समुचित ढंग से हो रही है या नहीं |

पहली ही कबिनेट में पूरे किये जायेंगे सभी वादे-
पत्रकारों से वार्ता के दौरान जब यूपी कैबिनेट के दोनों ही मंत्रियों से यह पूछा गया कि चुनाव प्रचार के दौरान जो वादे किये गए थे उनका क्या होगा ? इस सवाल के जवाब में मंत्रियों ने साफ़ किया कि यह कैबिनेट की पहली बैठक नहीं अपीतु सिर्फ एक परिचय मीटिंग थी जिसमें सभी मंत्रियों ने एक दूसरे से अपना परिचय करवाया है और चुनाव प्रचार के दौरान जो भी वादे नेताओं द्वारा किये गए थे वह सभी वादे पहली ही कबिनेट में पूरे किये जायेंगे |

अनावश्यक टिपण्णी से बचे – योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी कैबिनेट के सभी मंत्रियों से कहा है कि स्पस्ट जनादेश विकास के लिए मिला है न कि किसी भी अन्य चीज के लिए | उन्होंने साथ यह भी कहा है कि सूबे की जनता को बिजली, पानी, सड़क, कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वस्थ्य और किसानों की बदहाली को दूर करने के लिए हमें जनता ने इतना बड़ा जनादेश दिया है तो हमें अब बहुत ही सोच समझकर और बेहद ईमानदारी के साथ इस राह पर चलना होगा | साथ ही सीएम ने अपने मंत्रियों से यह भी कहा है कि वह किसी भी प्रकार की अनावश्यक टिपण्णी करने से बचे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here