किसी भी मद में गत वर्ष से कम वसूली बर्दास्त नहीं होगी: जिलाधिकारी

0
58

मैनपुरी(ब्यूरो)- किसी भी मद में गत वर्ष से कम वसूली बर्दास्त नहीं होगी। अधिकारी कार्यप्रणाली सुधारे, शासकीय कार्य में कोताही बरतने वाले दडिण्त होगें। वसूली करने वाले कर्मी, मुहर्रिर, अमीन जितना वेतन पा रहे है, उससे 10 गुनी धनराशि की वसूली करें। मानक से कम वसूली करने वाले मुहरिर के विरूद्ध अधिशाषी अधिकारी दण्डात्मक कार्यवाही करें अन्यथा अधिशाषी अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही होगी। नगर निकायों, कृषि विपणन की वसूली की स्थिति काफी निराशा जनक है, प्रवर्तन, निरोधात्मक कार्यवाही कर इसमें सुधार किया जाये। नजूल की भूमि का नगर निकाय के सम्पत्ति रजिस्टर, तहसील व ग्रामसभा के उपलब्ध अभिलेखों से मिलान कर अवैध कब्जों को चिन्हित कर नोटिस जारी किये जाये।

उक्त निर्देश जिलाधिकारी यशवंत राव ने कर-करेत्तर की मासिक बैठक की समीक्षा के दौरान दिये। उन्होनें सख्त लहजे में कहा कि अधिकारी कार्यों के प्रति उदासीनता न बरतें बल्कि शासकीय कार्यों को व्यक्तिगत जिम्मेदारी मानकर सम्पादित करें। बिना अनुमति के कोई भी अधिकारी,कर्मचारी मुख्यालय से बाहर न जाये, बीमार हो तो संज्ञान में लायें। बिना पूर्व अनुमति से बैठक से नदारद पाये जाने वाले अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही होगी। उन्होने बैठक से अनुपस्थित ज्वाइंट कमिश्नर, डिप्टी कमिश्नर, वाणिज्य कर का स्पष्टीकरण प्राप्त करने के आदेश दियें। उन्होनें कहा कि जिला स्तर पर नगर निकायों से सूचना एकत्र करने हेतु अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका, मंडियों हेतु सचिव मंडी मैनपुरी एंव कैनाल के विभिन्न खण्डों हेतु अधिशाषी अभियंता नहर को नोडल अधिकारी बनाकर उनके माध्यम से सूचनायें संकंिलत कराई जाये।

श्री राव ने नाराजगी व्यक्त करते हुये कहा कि वाणिज्य कर, आबकारी, कृषि विपणन, नगर निकाय की प्रगति काफी खराब है। उन्होनें संबंधित अधिकारियों को सचेत करते हुये कहा कि आगामी दो माह में मासिक में पिछडे़ लक्ष्य की पूर्ति सुनिश्चित करें। उन्होनें कहा कि यदि अभी से वसूली में कोताही बरती गई तो बैकलाॅग निरन्तर बढेगा, जिसकी पूर्ति करना मुश्किल होगा। उन्होने मनोरंजन कर अधिकारी से कहा कि वसूली की प्रगति तो संतोषजनक है, परन्तु प्रवर्तन का कार्य ठीक नहीं है। केविल चोरी रोकने हेतु प्रभावी कार्यवाही की जायें। उन्होने स्टाम्प एवं निवंधन में भी किरायेदारी, लीज आदि के किरायानामा कराकर आय के श्रोत बढाने को कहा। उन्होनें वन अधिकारी से कहा कि जनपद में हरियाली बरकरार रहें इसके लिये रोपित किये गये पौधों की उचित देखभाल हो।

उन्होने पीटीओ को आदेशित किया कि डग्गेमार वाहनों पर प्रभावी कार्यवाही करें, ओवर लोडिंग किसी भी दशा में न होने दें। सभी स्कूली वाहनों पर विद्यालय, चालक का नाम तथा मोबाइल नम्बर अवश्य लिखवाया जायें। अपनी निजी भूमि से अपनी प्रयोगार्थ मिट्टी की खुदाई की जा सकती है। यदि मिट्टी किसी दूसरे के प्रयोगार्थ दी जाती है तो उसे अवैध खनन माना जायेगा और दोषी के विरूद्ध प्रभावी कार्यवाही होेगी।

बैठक में अपर जिलाधिकारी एके श्रीवास्तव, अधिशाषी अभियंता विद्युत, नहर, जिला आवकारी अधिकारी, जिला मनोरंजन कर अधिकारी, अधिशाषी अधिकारी करहल, किशनी, भोगांव, कुरावली, बेवर, कलेक्ट्रेट के संबंधित अनुभाग प्रभारी आदि उपस्थित रहे|

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY