अदालत के आदेश की अवहेलना करने के मामले में एसीजेएम अनिल कुमार सेठ ने थानाध्यक्ष को किया तलब

0
125

up police

सुलतानपुर (ब्यूरो)- विवाहिता के चक्कर में फंसकर उसके सास-ससुर की पिटाई करने, परेशान करने व उन पर पुलिसिया रौब झाड़ने के मामले में अदालत के आदेश के बावजूद भी गोसाईगंज पुलिस विवेचना में आरोपी दारोगा व सिपाही के खिलाफ नरमी बरत रही है। जिस पर संज्ञान लेते हुए एसीजेएम अनिल कुमार सेठ ने थानाध्यक्ष गोसाईगंज को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी देते हुए आगामी 21 फरवरी के लिए व्यक्तिगत रूप से तलब किया है।

मामला गोसाईगंज थानाक्षेत्र के सरवन गांव का है। जहां की रहने वाले ज्ञानमती पत्नी दीनानाथ ने तत्कालीन चौकी प्रभारी द्वारिकागंज चन्द्रशेखर व सिपाही मायाराम के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए अदालत में अर्जी दी। जिसमें आरोप है कि अभियोगिनी के पति ने अपने बेटे का चाल-चलन ठीक न होने के चलते उसे सारी संपत्ति से बेदखल कर दिया था। जिसके बाद संपत्ति से बेदखल हुआ बेटा प्रेमचन्द्र व उसकी पत्नी अपने सास ससुर को परेशान करने के लिए तरह-तरह के हथकण्डे अपनाने लगे।

इस खेल में उन्होंने चौकी पर तैनात दारोगा चन्द्रशेखर व सिपाही मायाराम को भी हमवार किया। आरोप के मुताबिक परिणाम यह रहा कि दारोगा व सिपाही भी उस विवाहिता के इशारे पर चलकर अक्सर अभियोगिनी व उसके पति को थाने पर बुलाकर मारने-पीटने व बेइज्जत करने की भूमिका निभाने लगे और उन पर पुलिसिया रौब झाड़ते हुए 26 जुलाई 2014 को चौकी पर बुलाकर काफी अपमानित भी किया गया। इसी मामले में थाने व एसपी के यहां सूचना के बावजूद भी कोई कार्रवाई न होने पर अभियोगिनी ने कोर्ट की शरण ली जिसके क्रम में अभियोगिनी व गवाहों का बयान दर्ज हुआ।

जिस पर अदालत ने आरोपियों की तलबी के बजाय स्वत: संज्ञान लेते हुए उनके खिलाफ विवेचना के लिए गोसाईगंज थानाध्यक्ष को निदेर्शित किया। अदालत ने इस संबंध में कई बार अभियोजन पक्ष की मांग पर थाने से विवेचना में हुई प्रगति के बाबत रिपोर्ट भी मांगी, लेकिन थानाध्यक्ष ने कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। जिस पर कड़ा रूख अख्तियार करते हुए न्यायाधीश अनिल कुमार सेठ ने गोसाईगंज थानाध्यक्ष को अनुशासनात्मक कार्रवाई की चेतावनी देते हुए आगामी 21 फरवरी को व्यक्तिगत रूप से कोर्ट में तलब कर स्पष्टीकरण मांगा है।
रिपोर्ट-संतोष यादव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY