मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना को रद्द करने हेतु किसानों ने आयोजित की किसान पंचायत

0
89

वाराणसी(ब्यूरो)- मोहनसराय वाराणसी ट्रान्सपोर्ट नगर योजना से प्रभावित किसान बुधवार 26 अप्रैल को कटाई-दवायीं (खेती बारी) बन्दकर सुबह 11 बजे वाराणसी के सांसद नरेन्द्र मोदी के रविन्द्र पुरी कार्यालय पर भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के आधार पर मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना से प्रभावित 1194 किसानों की जमीन वैधानिक रूप से वापस करने हेतु लगायेंगें गुहार |

हस्ताक्षर युक्त मांगपत्र प्रधानमंत्री के कार्यालय के माध्यम से अपने स्थानीय सांसद प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदीजी तक पहँचाकर भूमि अधिग्रहण कानून 2013 के आधार पर अपने जीविकोपार्जन का एकमात्र साधन बहुफसली जमीन वैधानिक रूप से वापस करने हेतु करेंगें माँग|

किसान पंचायत में किसान विरोधी मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना निरस्त कर जमीन किसानों को वैधानिक रूप से वापस कराने हेतु 26 मार्च को कटाई -दवायीं (खेती -बारी) बन्द करने की बनी सर्वसम्मति से सहमति | आज दिनांक 21 अप्रैल को सुबह 11बजे से 2 बजे तक तपती धूप में किसान विरोधी मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना को निरस्त करने हेतु किसान संघर्ष समिति के संरक्षक किसान नेता विनय शंकर राय “मुन्ना” के नेतृत्व में बैरवन गाँव में हुई किसान पंचायत |किसान नेता विनय शंकर राय “मुन्ना”ने किसान पंचायत में कहा कि भूमि अधिग्रहण संशोधन विधेयक (कानून) 2013 अधिनियम की धारा 24 की उपधारा (2) व (3) में उल्लिखित प्रावधान जिसमें स्पष्ट है कि वर्ष 2008 या उससे पूर्व में भूमि की कोई भैतिक कब्जा नहीं लिया गया है या प्रतिकर का भुगतान नहीं किया गया है या/ योजना मूर्त रूप नहीं ली है या 80% किसानों की सहमति नहीं है, ऐसी स्थिति में पुराने भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही लैप्स (रद्द) मानी जायेगी के आधार पर नयी गठित भाजपा सरकार से हम किसान मांग करते हैं कि किसानों की जमीन की खतैनी पर से जबरदस्ती 2003 में काटकर वाराणसी विकास प्राधिकरण के दर्ज नाम को काटकर किसानों का नाम किसानों के जमीन की खतैनी में पुन: दर्ज करने की करे ठोस पहल| ज्ञातव्य हो कि उक्त मांग पत्र को लेकर किसान लगभग एक माह से मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना से प्रभावित बाैरवन, कन्नाडाड़ी, मिलिकीचक एवं सरायमोहना के प्रभावित किसानों के बीच हस्ताक्षर अभियान चला रहे थे| जिसको मोदीजी के वाराणसी संसदीय कार्यालय पर बुधवार 26 अप्रैल को देकर किसान विरोधी मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना को रद्द करने हेतु किसान लगायेंगें गुहार |

पंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय हुआ कि 26 मार्च को खेती बारी बन्द करने की बनी सहमति, उक्त प्रस्तावित जमीन बचाने हेतुपर हम किसान व्यवसायिक खेती कर अपनी जीविका चलाते हैं क्योकि जमीन बहुफसली एवं भारी उपजाऊ है| जिसका परिणाम है कि जेठ के दिन में अधिकांशतः खेत विरान पड़ जाते हैं लेकिन मोहनसराय ट्रान्सपोर्ट नगर योजना से प्रभावित किसानों के खेतों में आज भी गर्मी के दिनों में भी सब्जी, फूलावाड़ी, वागवानी की खेती से खेत लहलहा रहे हैं| जिसका कभी भी भौतिक सत्यापन किया जा सकता है|

किसान पंचायत की अध्यक्षता विनय शंकर राय “मुन्ना”,.संचालन विवेक यादव एवं धन्यवाद प्रेषित विरेन्द्र उपाध्याय ने किया | किसान पंचायत में प्रमुख रूप से अमलेश पटेल, छेदी पटेल, मेवा पटेल, प्रेम साव, सुरेन्द्र पटेल, श्यामलाल चौहान, ऱाणा चौहान, बिटुना देवी, कृण्णावती, चन्द्रकला देवी, सन्तारा देवी, रामराज, श्रीकान्त सिंह, रामविलास, दिलीप इत्यादि लोगों ने विचार व्यक्त किया |

रिपोर्ट- त्रिपुरारी यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here