पूरे लछिमन में बही काव्य की फुहार, अधिवक्ता एंव पत्रकार अखिलेश मिश्र के आवास पर कवि सम्मेलन सम्पन्न

0
283
प्रतीकात्मक फोटो

प्रतापगढ़(ब्यूरो)– बाबा घुइसरनाथधाम अंचल के पूरे लछिमन डभियार गांव में सामाजिक सद्भावना व राष्ट्रीय एकता की मजबूती के परिप्रेक्ष्य में शिवम साहित्यिक मंच के बैनर तले आयोजित हुए कवि सम्मेलन में कवियों ने अशिक्षा, दहेज़ प्रथा समेत सामाजिक व राष्ट्रीय समरसता पर केंद्रित रचनाओं के जरिए लोगों को देर शाम तक बांधे रखा। नवीन सुल्तानपुर की वाणी वंदना से आगाज हुए सम्मेलन में परवाना प्रतापगढी ने नेताओं के कुत्सित चरित्र पर कुछ यूं प्रहार किया कि ‘ वो बड़े शौक से मंदिर मस्जिद व शिवाला बांटें’ तो अमेठी के रामबदन पथिक नें ” चुनावी चकल्लस कै मेला लगा बा” के माध्यम से करारी चोट की।

यज्ञ कुमार पांडेय ने सामाजिक सरोकार में आ रही गिरावट पर कुछ यूं प्रहार किया “अइसी पछुआ चली बयार, नैतिकता भै तार तार”। संजय पाण्डेय पुष्पेंद्र ने” मुझसे न करो खुदा भगवान् की बातें “के माध्यम से कौमी एकता पर जोर दिया। अवधी के प्रतिष्ठित साहित्यकार अनीश देहाती ने” सब पै कृपा कय होया तौ, हमरौ बेड़ा पार किहा “पढकर वाह वाही लूटी। ठाकुर इलाहाबादी ने दहेज ब्यवस्था को रचना के जरिए नासूर ठहराया तो अंजनी आहत व श्रीनिवास मिश्र ने ओज की रचना के माध्यम से राष्ट्रीय एकता का संचार किया तो वहीं नागेंद्र अनुज ने राजनीतिज्ञों पर रचना के माध्यम से तंज कसा। इसी कड़ी में अनूप त्रिपाठी, रोहित पांडेय, सतीश त्रिपाठी, अशोक मिश्र आदि ने रचनाओं के माध्यम से मंच को ऊंचाइयां दी। अध्यक्षता पीजी कालेज पट्टी के सेवानिवृत्त संस्कृत विभागाध्यक्ष डॉ वाचस्पति शुक्ल ने करते हुए साहित्यकारों को समाज का आइना ठहराया।

मुख्य अतिथि के रूप में किसान आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एडवोकेट राव वीरेंद्र सिंह ने सामाजिक समरसता की मजबूती के लिए कवि सम्मेलन को मजबूत आधार ठहराया। संचालन सम्मेलन के संयोजक पत्रकार एडवोकेट अखिलेश मिश्र ने किया। आयोजक प्रतापनारायण मिश्र शास्त्री ने सभी का स्वागत किया। इस मौके पर पं शीतला प्रसाद मिश्र, हरिशंकर मिश्र, कैलाश पति मिश्र, प्राचार्य ज्ञानेंद्र नाथ त्रिपाठी, अटलबिहारी मिश्र,लाल बृजेश प्रताप सिंह, केदारनाथ मिश्र, आचार्य रामलखन मिश्र, प्राचार्य कृपाशंकर पांडेय, श्यामसुंदर त्रिपाठी शैलेश मिश्र, विजय मिश्र शास्त्री, प्रधानाचार्य नागेश प्रताप मिश्र, डॉ बड़ेलाल त्रिपाठी, प्रबेश द्विवेदी आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट- डॉ. आर. आर. पाण्डेय
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here