योग साधना के मामले में जिला जेल के बंदी आदर्श: पंकज

0
55


बलिया : जिला कारागार परिसर में अवस्थित योग भवन में शुक्रवार को कारागार योग समिति, भारत स्वाभिमान, पतंजलि योग समिति, पतंजलि महिला योग समिति के संयुक्त तत्वाधान में कारागार प्रशासन के सहयोग से भारत स्वाभिमान के राष्ट्रीय सचिव, प्रखर वक्ता, वैज्ञानिक तथा स्वदेशी के प्रति समर्पित महानायक राजीव भाई दीक्षित का जन्म दिवस पुण्य तिथि को स्वदेशी संकल्प दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि कारागार अधीक्षक द्वारा दीप प्रज्जवलन व स्वर्गीय दीक्षित के चित्र पर श्र(ा सुमन अर्पित किया गया। योग शिक्षक वेदप्रकाश उपाध्याय के निर्देशन में योग कक्षा में आगन्तुक अतिथियों सहित कारागार प्रशासन व योग साधकों ने सहभागिता किया।

इस अवसर पर पतंजलि योग समिति के वर्तमान कोषाध्यक्ष ओमप्रकाश जी ने योग शिक्षक की भूमिका का निर्वाह करते हुए, स्वदेशी से स्वालंबन एवं योग प्राणायाम की महत्ता व योग विषय पर अपने अनुभव सबके साथ साझा किया। जनपद के प्रमुख व्यवसायी राजेन्द्र वर्मा, सूरज बरनवाल, वीरेन्द्र , राधेश्याम, प्रदीप कुमार, परशुराम, मनजीत एण्ड कम्पनी के मालिक जितेन्द्र सिंह सहित लायन्स क्लब बलिया द्वारा गरीब असहाय बंदियों को कंबल व महिलाओं को शाल वितरित किया गया। कारागार की योग शिक्षिका महिला बंदी अंजू सोनी को उत्कृष्ठ प्रदर्शन के लिए प्रशस्ति पत्र दिया गया। समाज सेविका श्रीमती शालीनी पाठक व श्रीमती मनीषा उपाध्याय ने वस्त्र आदि देकर सम्मानित किया। जिला कारागार योग समिति द्वारा सहृदय समाज सेवी बन्धुओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। पतंजलि योग समिति व भारत स्वाभिमान की ओर से कारागार में विगत 07 वर्षो से निर्वाध अनवरत योग प्राणायम शिविर संचालन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए अधीक्षक एवं जेलर व बंदीरक्षकों को सराहनीय सहयोग के लिए प्रशंसा पत्र व अंग वस्त्र से सम्मानित किया गया। साथ ही योग साधकों एवं साधिकाओं को प्रशिक्षण प्रमाण पत्र व अंगवस्त्र से सम्मानित करते हुए, बंदियों के तप साधना की धूरि धूरि प्रशंसा किया।

उक्त अवसर पर बोलते हुए, भारत स्वाभिमान के जिला प्रभारी हृदयानन्द ने कहा कि ऐसी ही योगियों के द्वारा राजीव भाई के सपनों को साकार किया जा सकता है। स्वतंत्रता प्राप्ति के उपरांत जिस प्रकार के भारत की कल्पना अमर शहीदों ने किया हो, उसको साकार करने में कुछ भाग राजीव भाई अधूरा छोड़ गए है, उनकों पूरा करना ही उनके प्रति सच्ची श्र(ांजलि होगी। कारागार योग समिति के संयोजक समाजसेवी व युवा नेता एन0जी0ओ0 प्रकोष्ठ के क्षेत्रीय संयोजक पंकज पाठक ने अपने सम्बोधन में बताया कि बलिया कारागार शायद प्रदेश का पहला ऐसा कारागार है, जहॉ बंदी ही योग साधक व शिक्षक की भूमिका में है, और कारागार की विपरित परिस्थितियों में निरन्तर 07 वर्षो से योग प्राणायाम की अलख जगाये हुए है, निश्चित रूप से यह सराहनीय है। इस प्रकार का जन जागरण समूचे भारत मेें होना चाहिए तभी समाज का प्रत्येक व्यक्ति राजीव भाई के विचारों से अवगत होकर लाभान्वित हो सकेगा। इस अवसर पर पतंजलि महिला इकाई की महामंत्री श्रीमती किरन देवी, मंजू, नीतू, डॉ0 वाणिका, मीडिया प्रभारी अरविन्द मोहन समेत जितेन्द्र दिलीप, गंगा सागर कृष्णा, बबलू, विजय शंकर वीरबल, अनूप, राजकुमार, कृपा शंकर सहित अन्य योग साधक उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन योग साधक मनोज सिंह ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here