पंचायत के निर्माण कार्यो में काला -पीला, कार्यवाही के लिए ग्रामीणों ने दी 5 दिन की मोहलत

0
168

अंबागढ़,छत्तीसगढ़(रा. ब्यूरो)- ब्लाक से 10 किमी दूर ग्राम खुर्सीटिकुल जो की ग्राम पंचायत परसाटोला का आश्रित ग्राम है, इस ग्राम में तालाब सोन्दर्यीकरण के तहत पचरी निर्माण निर्माण किया गया जो| कि नियमानुसार नही बना है, वर्तमान में जो पचरी बनाई गई है उसमें सुचना बोर्ड भी नही लगा है, पचरी की सीढ़ी भी कम कर दी गई है, इसी तालाब में निर्मित कुछ वर्ष पहले पचरी निर्माण के समय दीवार भी बच्चो के ऊपर गिर गईं थी । जिसकी शिकायत जनपद कार्यालय तक नही पहुँची थी ।

ग्राम खुर्सीटिकुल के ग्रामवासी राम चरण यदु, मोहन लाल दामले, जगत राम यादव, चन्द्र किसन, कृपा राम, धनेश चंद्रवंसी, अशोक रामटेके, सन्तोष यदु, महेंद्र कुमार, कमलेश कुमार आदि लोगो ने बताया कि मनरेगा के तहत जो कई घरों में पशु शेड निर्माण कार्य किया गया जिसकी प्रशासनिक स्वीकृत लगभग 43 हजार है। उसमे हितग्राही के पुराने घर में ही जमीन में सिर्फ फ्लोरिंग किया गया और कुछ नही किया गया , स्थल को देखने से ऐसा लगता है मानो 5 हजार में इसे बना दिया गया ।

हितग्राही हनुमान पिता रामदयाल के घर में पशु शेड निर्माण में भारी अनियमितता बरती गई है । उसी तरह तालाब में नए एवं पुराने पचरी निर्माण भी नियम के तहत नही हुआ है, एवं मुक्तिधाम के निर्माण कार्य में भी भर्राशाही की गई है, इस शिकायत से ऐसा लगता कि ग्राम पंचायत में हो रहे निर्माण कार्यो पर इंजीनियर मॉनिटरिंग नही करते, लगता ये भी कि कही घर बैठे इंजीनियर कार्यो का मूल्यांकन तो नही करते। यह तो जाँच के बाद ही पता चलेगा कि ग्राम पंचायत के किन- किन कार्यो में भ्रस्टाचार हुआ है ।

ग्राम खुर्शीटिकुल के ग्रामीणों ने हस्ताक्षरयुक्त एक शिकायतपत्र जनपद पंचायत अंबागढ़ चौकी के मुख्यकार्यपालन अधिकारी एस. लकड़ा को सौपा , इस शिकायतपत्र में ग्रामीणों ने बताया कि अगर 8 मई तक इस शिकायत की जाँच नही हुई तो हम 9 मई को लोक सुराज समाधान शिविर ग्राम परसाटोला में फिर शिकायत करेंगे ।

जनपद पंचायत अंबागढ़ चौकी के सीईओ एस. लकड़ा ने बताया कि मुझे तक अभी शिकायत नही आई है शिकायत के बाद जाँच करवाई जाएगी।

रिपोर्ट-हरदीप छाबड़ा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY