अब राज गुटखा माफिया के खिलाफ इनकम टैक्स विभाग कसेगा शिकंजा 

जालौन(ब्यूरो)- प्रशासन के शिकंजे में आए जिले के सबसे बडे गुटखा मािफया राज गुटखा मालिक पर शिकंजा कसने लगा है। सिटी मजिस्टेट ने खुद इस गुटखा फैक्टी पर छापा मारा था। इसके बाद उन्होंने अब इनकम टैक्स विभाग को पत्र लिखकर अवैध गुटखा कारोबार की इनकम व अदा किए जाने वाले टैक्स की जांच पडताल करने को कहा है।

गौरतलब है कि इन दिनों पूरे जिले में अवैध गुटखा के मामले में राज गुटखा ने अपना एकछत्र राज कायम कर रखा है। सूत्रों के मुताबिक हर माह करीब 50 लाख रुपए से अधिक का व्यापार किया जाता है। सूचना के आधार पर सिटी मजिस्टेट नत्थू प्रसाद पांडेय ने सोमवार को तुलसी नगर स्थित राज गुटखा फैक्टी पर छापा मारा था। यहां पर उन्हें बडी मात्रा में लाखों का माल मिला था। मौके से 127 बोरी मिश्रित गुटखा, 54 बोरी सुपाडी के अलावा बडी मात्रा में जहरीली तम्बाकू, प्लास्टिक के रैपर आदि माल मिला था। जिसे जब्त कर कार्रवाई की गई थी।

इस मामले में उक्त गुटखा के मालिक संजू गुप्ता पुत्र जायसवाल गुप्ता निवासी गोहन हाल निवास तुलसी नगर पर और शिकंजा कसने की तैयारी की जा चुकी है। अब सिटी मजिस्टेट ने इनकम टैक्स विभाग के अधिकारी को पत्र लिखकर इस मामले की जांच करने को कहा है। अगर उक्त गुटखा माफिया जांच में टैक्स चोरी करते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ इनकम टैक्स विभाग भी अपने स्तर से कार्रवाई करेगा। अगर ऐसा हुआ तो उक्त गुटखा मालिक की मुश्किलें और भी बढ सकती हैं। सूत्रों की मानें तो इस वक्त उक्त गुटखा मालिक सेटिंग-गेटिंग के खेल में लगा हुआ है और किसी भी तरह अपना अवैध कारोबार फिर से शुरू करने की जुगाड में जुटा है। अब देखना यह है  कि वह अपने इन मंसूबों में कितना सफल हो पाता है?

अब तक क्या करते रहे जिम्मेदार?
सोमवार को सिटी मजिस्टेट के छापे के दौरान पकडी गई अवैध राज गुटखा फैक्टी में बडी मात्रा में प्रतिबंधित गुटखा बरामद होने के बाद सवाल यह उठ रहा है कि आखिर अब तक जिम्मेदार क्या कर रहे थे? क्या इस अवैध कारोबार में अन्य लोगों की भी मिलीभगत थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY