भारत ने विकसित कर लिया दुनिया का सबसे बेहतरीन टैंक, जल और थल हर जगह एक ही क्षमता से कर सकता है मार

0
82799

दिल्ली- भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संस्थान (DRDO)ने हाल ही में भारतीय सीमाओं की दुश्मनों से सुरक्षा के लिए दुनिया के सबसे बेहतरीन टैंक का निर्माण किया है | इस टैंक की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि यह टैंक थल और जल दोनों ही जगह बराबर मार कर सकता है | इस टैंक को DRDO के वैज्ञानिकों ने इतना बेहतरीन बनाया है कि इस टैंक के ऊपर बारूदी सुरंगों, बम, गोलों आदि का कोई भी फर्क नहीं पड़ेगा |

समंदर की गहराई में ही दुश्मनों को देगा जल समाधि –
भारतीय रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO)के वैज्ञानिकों ने इस टैंक को इतना बेहतरीन बनाया है कि तह टैंक जमीन के अलावा नदियों और समंदर की गहराइयों में भी दुश्मनों को मुंह तोड़ जवाब देने के लिए काफी है | समंदर की गहराई में यह टैंक दुश्मन सेना के जहाजों के लिए एक दम काल है |

8 किमी/घंटा की रफ़्तार से पानी में भी दौड़ेगा –
DRDO के वैज्ञानिकों का दावा है कि उनके द्वारा बनाया गया यह टैंक समंदर की गहराई हो या फिर नदियों का उबड़ खाबड़ एरिया यह टैंक हर जगह बराबर काम कर सकता है | टैंक की विशेषता यह भी है कि यह टैंक समंदर की गहराई में भी 8 किमी/घंटा की रफ़्तार से चल सकता है और दुश्मनों के होश उड़ा सकता है |

रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन के वैज्ञानिकों ने बताया कि उनके द्वारा यह टैंक पानी में भी अच्छी रफ़्तार के साथ दौड़ सकता है इसके लिए उन्होंने इस टैंक में एक खास तरह के हाइड्रोजेट लगाए है जो इसे पानी में तैरने में मदद करते है |

kestrel (photo credit-defense-update.com)1
kestrel (photo credit-defense-update.com)1

जरुरत पड़ने पर सैनिकों के लिए एम्बुलेंस का भी काम करता है यह टैंक –
वैज्ञानिकों ने बताया कि उनका यह टैंक जरुरत पड़ने पर एक एमुलेंस भी बन जाता है और युद्ध या फिर किसी भी अन्य मिशन के दौरान घायल सैनिकों को अस्पताल तक पहुंचाने के लिए या फिर उनका इलाज करने के लिए बेहद मददगार साबित हो सकता है |

इस टैंक में एक ही साथ कम से कम 8 सैनिक बैठकर कही भी आ जा सकते है | और जरुरत पड़ने पर इसे एक एम्बुलेंस की तरह से भी इस्तेमाल किया जा सकता है |

बुलेटप्रूफ है सेना का यह टैंक –
सेना आजकल DRDO के जिस टैंक का परीक्षण कर रही है यह टैंक पूरी तरह से बुलेटप्रूफ टैंक है | इसके टायरों को एक ख़ास तरह के मैटेरियल से तैयार किया गया है | जिसकी वजह से किसी भी बारूदी सुरंग या फिर बमों का इस टैंक पर कोई भी असर नहीं होता है |

दुनिया भर के अत्याधुनिक हथियारों से और बेहद ख़ास है तह टैंक-
जमीन में यह टैंक 100 किमी/घंटा की रफ़्तार से दौड़ सकता है |
पानी में यह टैंक 8 किमी/घंटा की रफ़्तार से दौड़ सकता है |
जरूरत के हिसाब से सैनिक इसके प्लेटफार्म को ऊपर नीचे कर सकते है |
जरूरत पड़ने पर इसे एम्बूलेंस में भी परिवर्तित किया जा सकता है |
अत्याधुनिक गन और मिसाइल भी लगी होंगी इस टैंक में |
बारूदी सुरंगों का इस पर कोई भी असर नहीं होगा |
अत्याधुनिक कैमरे लगाए गए है जिससे दुश्मनों पर नजर रखी जा सकती है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY