भारत ने चीनी पत्रकारों को दिया, 31 जुलाई तक देश छोड़ने आदेश |

0
21661

indo-chini

NSG मामले में भारत चीन कि प्रतिक्रिया से पहले ही नाखुश था उसके बाद चीनी सेना का पाक अधिकृत कश्मीर में पाकिस्तानी सेना के साथ पेट्रोलिंग करना भारत को बिल्कुल रास नहीं आया | भारत और चीन के बीच माहौल लगातार तनावपूर्ण होता जा रहा है और भारत सरकार के इस फैसले के बाद शायद यह तनाव और बढ़ जाए |

भारत सरकार ने आज एक बड़ा फैसला लेते हुए चीन के सरकारी अखबार शिन्हुआ के तीन पत्रकारों के वीजा की अवधि बढ़ाने से इनकार कर दिया को और इन तीनों ही पत्रकारों को 31 जुलाई तक देश छोड़ने का आदेश दे दिया है |

चीन के ये तीनों ही पत्रकारों में से दो वु कियांग और लू तंग नई दिल्ली और मुंबई के ब्यूरो हेड हैं जबकि एक अन्य पत्रकार शे योगांग मुम्बई में ब्यूरो रिपोर्टर हैं | सरकार ने वीजा अवधि ना बढ़ाये जाने को लेकर अभी तक कोई कारण नहीं बताया है |

हिन्दुस्तान टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक़ विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने इस संबंध में कोई भी प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया है |

जानकारों कि माने तो वीजा की अवधि ना बढ़ाया ना जाना एक आम बात हैं, दिसम्बर में चीन ने भी एक फ्रेंच पत्रकार को मनगढंत रिपोर्टिंग के चलते बाहर का रास्ता दिखा दिया था |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here