बीफ एक्सपोर्ट करने के मामले में भारत विश्व का दूसरा सबसे बड़ा देश

0
957

लेकिन यदि हम वास्तविकता की बात करें तो देश के विभिन्न राज्यों में आज भी प्रतिबन्ध लगे होने के बावजूद भी बूचड़ खाने काफी तेजी से चल रहे है I और यही नहीं भारत से तस्करी के जरिये से गो-वंश को विदेशों में भी कटने के लिए भेजा जाता है जिनमे से पाकिस्तान एक प्रमुख देश हैं I पाकिस्तान की एक रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान में कटने वाले 70 प्रतिशत पशुओं की तस्करी भारत से ही होती है I

चौंकाने वाली बात तो यह है कि बीते वर्षों में भारत में प्रतिबन्ध होने के बावजूद भी गो-मांस और भैंस के मांस के निर्यात में 10 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है I आपको जानकार हैरानी होगी कि 2011 में बीफ की खपत 20.4 लाख टन थी, जो 2014 में बढ़कर 22.5 लाख टन हो गई है। और इतना ही नहीं अगर हम पशुओं की गणना के आकड़ों को देखें तो 2007 के मुकाबले 2012 तक गो वंश में 4.1 प्रतिशत की कमी आई है I और इनमें भी सबसे अधिक कमीं देशी गायों में आई है जो कि 9 प्रतिशत है I इसी समय में भैंसों की संख्या में सर्वाधिक तक़रीबन 18 प्रतिशत की कमीं दर्ज की गयी है I

हद की बात तो यह है कि बीफ का विरोध करने वाली सरकार के कार्यकाल में ही पिछले वर्ष भारत ने 19.5 लाख टन बीफ का निर्यात किया। भारत बीफ निर्यात में विश्व में नंबर 2 पर है। पिछले छह महीने में बीफ निर्यात में 15.58 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई है।

 

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

http://paritet1985.myjino.ru/orders/sitemap69.html подарочный сертификат описание two × 3 =