उफ़ा में भारत – पाक संयुक्त बयान एक ऐतिहासिक चूक : कांग्रेस

0
257
Photo - NDTV
Photo – NDTV

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम उल्लंघन समेत अन्य  घटनाक्रमों पर चिंता जताते हुए रूस के उफा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और  पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बातचीत के बाद जारी संयुक्त बयान को  ‘ऐतिहासिक चूक’ करार दिया।

उन्होंने कहा “संयुक्त बयान पर हस्ताक्षर के बाद घटनाक्रमों का होना, सहमति के  संबंध में भारत द्वारा किये गये दावे के विपरीत पाकिस्तान के एनएसए का बयान  और अब नियंत्रण रेखा पर बिना उकसावे के गोलीबारी की घटनाओं से इस बात की  पुष्टि होती है कि सरकार और भाजपा ने जिसे ऐतिहासिक सफलता करार दिया था, वास्तव में वह ऐतिहासिक भूल थी। घटनाक्रम पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब देने के अलावा मोदी को मुंबई आतंकवादी हमलों के साजिशकर्ताओं को न्याय के कठघरे में लाने के भारत के मामले में ‘समझौता करने और उसे हल्का करने’ के लिए माफी मांगनी चाहिए।“

प्रधानमंत्री को अपने सलाहकारों पर भी कार्रवाई करनी चाहिए जिन्होंने उनसे यह कूटनीतिक अनर्थ कराया जिससे भारत को बड़ी परेशानी उठानी पड़ी है। कांग्रेस नेता ने कहा कि पाकिस्तान के साथ वार्ता की नीति असंगत और लापरवाही वाली रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here