भारत की भूमिका सराहनीय, कर सकता है विश्व का नेतृत्व : व्हाइट हाउस

0
38196

The Prime Minister, Shri Narendra Modi being welcomed on his arrival at Joint Base Andrews, Washington DC on June 06, 2016.

अपने पांच दिनों के विदेश दौरे में पीएम नरेन्द्र मोदी स्विट्ज़रलैंड के बाद अब अमेरिका पहुँच गए हैं, जहाँ पीएम मोदी को अमेरिका की ओर से चोल वंश से जुडी अनोखी भेंट मिली साथ ही अमेरिका ने तस्करों से बरामद 12 प्राचीन मूर्तियाँ भारत को वापस कर दी | इसके बाद पीएम मोदी ने भारतीय मूल की दिवंगत अन्तरिक्ष यात्री कल्पना चावला को श्रद्धांजलि अर्पित की |

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से मुलाकात से पहले वाइट हाउस ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए कहा “भारत के प्रधानमंत्री श्रीमान मोदी ने भारत में मुश्किल राजनीतिक माहौल के बावजूद जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर भारत की प्रतिबद्धता दर्शायी है और यह साबित किया है कि जलवायु परिवर्तन जैसे वैश्विक मुद्दे पर भारत विश्व का मार्गदर्शन और नेतृत्व कर सकता है |
व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा “सोमवार को श्रीमान मोदी से मुलाकात के दौरान राष्ट्रपति ओबामा राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ – साथ आर्थिक संबंधों पर भी चर्चा करेंगे | इस बातचीत में अंतर्राष्ट्रीय जलवायु समझौते को पूरा करने में भारत की भूमिका प्राथमिकता पर रहेगी जो इस बात को सुनिश्चित करेगी कि विश्व जलवायु परिवर्तन की समस्या का सामना करने के लिए एकजुट हो |

उन्होंने कहा, जाहिर तौर पर, जिस तरह से प्रधानमंत्री मोदी ने इस मामले पर काम किया है, उसे लेकर राष्ट्रपति ओबामा के मन में उनके लिए बहुत सम्मान है और मैं आशा करता हूं कि जलवायु परिवर्तन के एजेंडे में बेहतरी के लिए अमेरिका और भारत और क्या कर सकते हैं ? दोनों द्सेशों के राष्ट्राध्यक्ष इस बात पर भी चर्चा करेंगे |
अर्नेस्ट ने कहा, लेकिन इस समझौते तक पहुंचने में अंतरराष्ट्रीय समिति की मदद में भारत ने अब तक जो भूमिका निभाई है वह महत्वपूर्ण है और जाहिर तौर पर हम उम्मीद करते हैं कि जिस समझौते पर हमने हस्ताक्षर किया या दिसंबर में जिस नतीजे पर हम पहुंचे, उससे इतर जाकर भारत आगे भी अंतरराष्ट्रीय समुदाय में प्रगति के लिए अहम भूमिका निभाता रहेगा।

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here