पाक को लेकर एक्शन में भारत, अपने राजनयिकों से कहा अपने बच्चों को पाक से बाहर रखें

0
8287

vikas

पाकिस्तान को लेकर भारत सरकार पूरी तरह से एक्शन में आ गयी है, भारत सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते पाकिस्तान में रह रहे अपने राजनयिकों और बाकी स्टाफ को आदेश दिया है कि वह अपने बच्चों को पाकिस्तान में ना पढ़ायें |

उन्होंने कहा आप अपने बच्चों को पढ़ाई के लिए या तो भारत भेज दें या किसी अन्य देश में पढ़ायें | भारत सरकार ने कहा यह हिदायत सुरक्षा को मद्देनज़र रखते हुए दी गयी है | पाकिस्तान में रह रहे भारत सरकार के स्टाफ के करीब 60 बच्चों पर इस फैसले का असर होगा |

इस वक़्त पाकिस्तान में रह रहे भारतीय स्टाफ के 60 बच्चों में से 50 अमेरिकन school में पढ़ते हैं और 10 रूट्स इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते हैं, पाकिस्तान के अमेरिकन स्कूल में कई देशों के राजनयिकों के बच्चे पढ़ते हैं, और इस पूरे स्कूल में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हैं, कई अमेरिकन राजनयिकों ने भारत से यह फैसला बदलने की गुजारिश की है, लेकिन भारत की ओर से यह साफ़ कर दिया गया है कि वह अपने फैसले में कोई बदलाव नहीं करेगा |

नो स्कूल गोइंग’ मिशन के तहत पति या पत्नी तो वहां रह सकते हैं, लेकिन स्कूल जाने वाले बच्चों को साथ रखने की इजाज़त नहीं होती। यही नहीं बच्चों को स्कूल की तरफ से इस्लामाबाद से बाहर भी जाने के लिए पाकिस्तान के फॉरेन ऑफिस से इजाजत की जरूरत पड़ती है, जो कई बार नहीं भी मिलती है। इस बात को लेकर भी यहां दिल्ली में नाराजगी है।

भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरुप ने इस मामले पर ब्यान देते हुए बताया कि भारत के रह रहे भारत सरकार के स्टाफ से जुडी नीतियों पर समय-समय पर समीक्षा होती रहती है , और फिर उस देश की वर्तमान स्थिति को देखते हुए फैसले लिए जाते है, यह फैसला भी दिसम्बर 2014 में पेशावर के एक आर्मी स्कूल पर हुए हमले के बाद लिया गया था, जून 2015 में इसकी जानकारी सम्बंधित अधिकारियों को दे दी गयी थी ताकि उन्हें बच्चों के लिए इंतज़ाम करने का समय मिल जाए |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here