जौनपुर के एक पेट्रोल पंप पर नहीं चलते भारतीय मुद्राओं के सिक्के, सिक्के लाने वालों की गाड़ियों से वापस निकाल लिया जाता है पेट्रोल

0
111

जौनपुर- जी हां यह हकीकत है जौनपुर स्थित लखनऊ बनारस हाइवे पर उमरपुर में मैहर देवी के निकट पेट्रोल पंप की है| यहां पर आज शाम को रूहट्टा निवासी राजेश गुप्ता अपनी मोटरसाइकिल में पेट्रोल डलवाने गए| उन के पास उस समय ₹2000 के नोट थे और 5 और 10 के सिक्के में ₹50 थे उन्होंने जब ₹50 का पेट्रोल अपनी मोटरसाइकिल में डलवा लिया और उसके बाद जब वे 5 और 10 के सिक्के के रूप में 50 रुपए पेट्रोल पंप वालों को देने लगे तो उन्होंने वे पैसे लेने से साफ इंकार कर दिया। राजेश गुप्ता ने जब इसकी शिकायत वहां पर उपस्थित उक्त पेट्रोल पम्प के मैनेजर से की तो मैनेजर ने साफ कहा कि यह सिक्के पेट्रोल पंप पर नहीं चलते और इतना ही नहीं उन्होंने उनकी मोटरसाइकिल में डलवाया पेट्रोल भी वापस निकाल लिया| इससे राजेश गुप्ता बहुत आहत हुए और उन्होंने कहा की यह एक ग्राहक का ही नही वरन यह भारतीय मुद्राओं का भी अपमान है| वह इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से करेंगे आखिर क्यों 5 और 10 के सिक्के उक्त पेट्रोल पंप पर नहीं चलेंगे। पेट्रोल पंप संचालक ने आखिर क्यों इन सिक्कों को लेने से इंकार कर दिया इससे न सिर्फ ग्राहक की भावनाओं को आहत होना पड़ा बल्कि उक्त पट्रोल पंप संचालक ने भारतीय मुद्राओं का भी अपमान किया है|

उक्त पेट्रोल पंप स्थित पेट्रोल पंप संचालक ने बताया कि हम पेट्रोल पंप संचालकों में यह तय किया है कि हम अपने यहां पर 5 और 10 के सिक्के नहीं लेंगे इसके पीछे का कारण को उन्होंने स्पष्ट नहीं किया अब ऐसे में सवाल यह उठता है कि अगर किसी के पास 5 और 10 के सिक्के में भारतीय मुद्राए है तो क्या रिजर्व बैंक का कोई आदेश है की इन मुद्राओं को पेट्रोल पम्प पर नहीं चलाया जा सकता। कुछ भी हो जिला प्रशासन को ऐसे मामलों को संज्ञान मे लेकर कार्रवाई करनी चाहिए ताकी पेट्रोल पम्प वाले मनमानी न कर सके।

रिपोर्ट- रियाजुल हक़/डॉ. अमित कुमार पाण्डेय 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY