पाकिस्तान ने दावा किया कि भारतीय एक्स नेवी अफसर पाकिस्तान के बलूचिस्तान में दे रहा था आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा, भारत ने सभी दावों को किया ख़ारिज

0
410

दिल्ली- पाकिस्तानी सेना ने भारत के एक्स नेवी अफसर कुलभूषण जाधव को भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी रॉ का एजेंट बताते हुए उसके कथित तौर पर कबूलनामे का एक वीडियो जारी किया है I जिसमें कुलभूषण जाधव को कथित तौर पर यह स्वीकार करते हुए दिखाया गया है कि कुलभूषण जाधव भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी रॉ का एक एजेंट है और वह पाकिस्तान के बलूचिस्तान में आतंकी गतिविधियों को बढाने की कोशिश कर रहा था I उधर भारत सरकार ने पाकिस्तान के सभी दावों को दरकिनार करते हुए कहा है कि पाकिस्तान के द्वारा लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद है I साथ ही भारत ने यह सवाल उठाया है कि जाधव को ईरान से किडनैप किया गया है I

क्या है पाकिस्तान के दावे –
पाकिस्तानी सेना के इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल असीम बाजवा और संघीय सूचना मंत्री परवेज राशिद ने वीडियो जारी करने के लिए इस्लामाबाद में एक संवाददाता सम्मेलन किया। उन्होंने कहा कि कुलभूषण यादव ने अशांत बलूचिस्तान प्रांत में संकट पैदा करने के लिए भारतीय गुप्तचर एजेंसी रॉ के लिए काम करने की बात स्वीकार की है I
पाकिस्तान की तरफ से आरोप लगाया गया है कि कुलभूषण जाधव अभी भी इंडियन नेवी का एक सर्विंग अफसर है और उसे 2022 में नेवी से रिटायर होना है I
पाकिस्तान की तरफ से बयान में कहा गया है कि, “जाधव को सीधे रॉ चीफ हैंडल करते है और इतना ही नहीं जाधव भारत सरकार के एनएसए ढोबाल के संपर्क में भी है I
पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसने अपना वह कोड भी बताया है जिसके जरिये वह रॉ से संपर्क करता था I

भारत ने सभी आरोपों को किया ख़ारिज –
जाधव के वीडियों को भारतीय विदेश मंत्रालय ने देखा है और उसने यह कहा है कि हमनें वीडियों को देखा है और इससे यह प्रमाणित नहीं होता है कि जाधव हमारा कोई एजेंट है और वह जो कुछ कह रहा है वह सच है I मिनिस्ट्री ने कहा है कि जाधव साफ़ साफ़ प्रेसर में दिख रहा है I
हालाँकि भारत सरकार ने यह माना है कि जाधव एक्स नेवी अफसर रह चूका है लेकिन जबसे उसने नेवी छोड़ी है तब से सरकार से उसका कोई वास्ता नहीं है
भारत सरकार के विदेश मंत्रालय ने कहा है कि हम पाकिस्तान सरकार से आग्रह करते है कि वह कुलभूषण जाधव तक हमारे दूतावास की पहुँच मुहैया करवाए I

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY