भारत ने राष्‍ट्रीय चक्रवात जोखिम शमन योजना-2 के लिए 308.40 मिलियन डॉलर की सहायता के लिए विश्‍व बैंक के साथ वित्‍तपोषण समझौते पर हस्‍ताक्षर किये

0
284

वित्‍तपोषण समझौते पर भारत सरकार की ओर से आर्थिक कार्य विभाग में संयुक्‍त सचिव श्री राजकुमार और विश्‍व बैंक की ओर से भारत में प्रोग्राम लीडर और कार्यवाहक काउंटी निदेशक श्री जॉन ब्‍लोमक्विस्‍ट ने हस्‍ताक्षर किये। गोवा, गुजरात, कर्नाटक, केरल, महाराष्‍ट्र और पश्चिम बंगाल राज्‍यों से संबंधित परियोजना समझौतों पर संबंधित राज्‍य सरकारों के प्रतिनिधियों ने हस्‍ताक्षर किये। गोवा सरकार की ओर से मुख्‍य अभियंता, जल संसाधन विभाग और पदेन अतिरिक्‍त सचिव श्री सुबराये टी. नादकर्णी, गुजरात सरकार की ओर से गुजरात राज्‍य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी सुश्री अंजु शर्मा, कर्नाटक सरकार की ओर से राजस्‍व एवं आपदा प्रबंधन विभाग में प्रधान सचिव श्री राज कुमार खत्री, केरल सरकार की ओर से अपर आवासीय आयुक्‍त सुश्री रचना शाह, महाराष्‍ट्र सरकार की ओर से निदेशक, आपदा प्रबंधन इकाई, श्री सुहास दिवासे और पश्चिम बंगाल सरकार की ओर से प्रधान आवासीय आयुक्‍त श्री आर डी मीणा ने हस्‍ताक्षर किये।

एनसीआरएमपी-2 के अंतर्गत अतिरिक्‍त वित्‍तपोषण का उद्देश्‍य चक्रवात और मौसम संबंधी अन्‍य जोखिमों के प्रति गोवा, गुजरात, कर्नाटक, केरल, महाराष्‍ट्र और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में रहने वाले समुदायों की असुरक्षा में कमी लाना और आपदाओं से निपटने की योजना तैयार करने की राज्‍य संस्‍थाओं की क्षमता बढ़ाना है। एनसीआरएमपी-2 के प्राथमिक लाभार्थी लक्षित राज्‍यों के तटीय इलाकों में रहने वाले समुदाय होंगे, जिन्‍हें चक्रवात जोखिम शमन अवसंरचना और पूर्व चेतावनी प्रणालियों से लाभ होगा। इस परियोजना के अंतर्गत देश भर में निर्णय लेने के लिए राष्‍ट्रीय स्‍तर पर विविध प्रकार के जोखिम प्रबंधन को सशक्‍त बनाने के लिए तकनीकी सहायता उपलब्‍ध कराने और विविध प्रकार के जोखिमों के बारे में उपलब्‍ध सूचना की गुणवत्‍ता में सुधार लाने हेतु वित्‍त पोषण उपलब्‍ध कराया जाएगा।

एनसीआरएमपी-2 के चार संघटक हैं; (1) पूर्व चेतावनी प्रसार प्रणाली (2) चक्रवात जोखिम शमन अवसंरचना (3) विविध प्रकार के जोखिम प्रबंधन के लिए तकनीकी सहायता और (4) परियोजना प्रबंधन और कार्यान्‍वयन सहायता।

इस परियोजना का कार्यान्‍वयन गृह मंत्रालय द्वारा राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) के माध्‍यम से किया जा रहा है। राज्‍य स्‍तर पर इसका कार्यान्‍वयन राज्‍य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के माध्‍यम से किया जा रहा है।

News Source – PIB

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

http://yegob.fr/wp-content/md-casino-live-dolls/ Md casino live dolls 1 × one =