भारतीय नौसेना ने लांच किया ‘सागर विनाशक’, दुनिया की सबसे घातक मिसाइलों से लैस है यह युद्धपोत…

0
7421

ship_b_fifteensep
प्रधानमत्री मोदी के सत्ता में आने के बाद से भारत लगातार अपनी सैन्य और सामरिक क्षमता के इजाफा कर रहा है, जल, थल और नभ तीनों ही क्षेत्रों में भारत तेजी से अपनी क्षमताओं का विकास कर रहा है |

भारत की नौसेना शक्ति में जल्द ही एक बड़ी ताकत जुड़ने वाली है, जिसके बाद भारत को समुद्र में हरा पाना लगभग असंभव हो जायेगा, मोदी सरकार लक्ष्य अगले कुछ सालों में भारतीय नौ सेना के बेड़े में कम से कम 200 जंगी जहाज जोड़ने का है और सरकार तेजी से इस दिशा में काम कर रही है |

भारतीय नौसेना के समुद्र में अपनी ताकत में इजाफा करते हुए शनिवार को नौसेना का मिसाइल डिस्ट्रॉयर युद्धपोत ‘मोरमुगाओ’ लांच किया है, मुंबई स्थित मझगांव डॉकयार्ड लिमिटेड (एमडीएल) ने इस जंगी जहाज को तैयार किया है |इस युद्धपोत को आदर्श भाषा में सागर विनाशक नाम दिया गया है |

मोरमुगाओ नौसेना के कोलकाता क्लास का दूसरा विनाशक जहाज है, इस क्लास का पहला जहाज विशाखापत्तनम में अपने अंतिम चरण में है, अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मोरमुगाओ भी अगले दो साल में बनकर तैयार हो जायेगा |

एमडीएल ने मोरमुगाओ को प्रोजेक्ट-15बी नाम दिया है. जब ये नौसेना के जंगी बेड़े में शामिल हो जायेगा, तो इसे ‘आईएनएस मोरमुगाओ’ के नाम से जाना जायेगा, जानकारी के मुताबिक, मोरमुगाओ युद्धपोत पूरी तरह से स्वदेशी है और इसमें भारत में ही निर्मित दुनिया के एकमात्र क्रूज बैलेस्टिक मिसाइल, बह्मोस से लैस किया गया है, इसके अलावां इजराइल की बराक-8 मिसाइल भी इस युद्धपोत पर मौजूद होगी | यह जहाज एअक अभेद किले की तरह होगा जिसे कोई दुश्मन भेद नहीं सकेगा |

भारतीय नौसेना तेज़ी से ब्लू – वाटर नेवी बनने की ओर बढ़ रही है, ब्लू वाटर नेवी ऐसी नौसेना को कहा जाता है जो अपनी सीमा से बाहर निकल कर दुनिया के किसी भी कोने में समुद्री सुरक्षा प्रदान करने में सक्षम हो |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here