भारत और किर्गिस्‍तान के बीच हुए अहम् समझौते

0
321
The Prime Minister, Shri Narendra Modi meeting the Prime Minister of Kyrgyz, Mr. Temir Sariyev, at Ala-Archa State Residence, in Bishkek, Kyrgyzstan on July 12, 2015.
प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान के प्रधानमंत्री के साथ

रक्षा सहयोग संबंधी समझौता

  • भारत और किर्गिस्‍तान के बीच रक्षा, सुरक्षा, सैन्‍य शिक्षा और प्रशिक्षण, संयुक्‍त सैन्‍य अभ्‍यासों का आयोजन,अनुभव और सूचना का आदान-प्रदान, सैन्‍य प्रशिक्षकों और पर्यवेक्षकों के आदान-प्रदान  से संबंधित मामलों में सहयोग प्रगाढ़ बनाना

 

चुनाव के क्षेत्र में परस्‍पर समझ और सहयोग संबंधी समझौता ज्ञापन

  • चुनावों और जनमत संग्रहों, आधुनिक प्रणालियों एवं तकनीकों, निर्वाचन प्रक्रिया के हितधारकों के अधिकारों साथ ही साथ चुनाव प्रशासन के अन्‍य मसलों के कानूनों से संबंधित मामलों में सहयोग प्रगाढ़ बनाना।इस समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर होने से निर्वाचन आयोगों को चुनाव प्रबंधन एवं प्रशासन के लिए तकनीकी सहायता और क्षमता संबंधी सहयोग मिलेगा, जिससे भारत और किर्गिस्‍तान के संबंध और प्रगाढ़ होंगे।

किर्गिस्‍तान के अर्थव्‍यवस्‍था मंत्रालय और भारतीय मानक ब्‍यूरो (बीआईएस) के बीच मानकों के क्षेत्र में समझौता ज्ञापन

  • इस समझौता ज्ञापन का उद्देश्‍य मानकीकरण के क्षेत्रों में तकनीकी सहयोग को मजबूत और व्‍यापक बनाना,व्‍यापार में अनुपालन आकलन और दोनों पक्षों के बीच आवश्‍यक सूचना एवं विशेषज्ञता का आदान प्रदान करने के उद्देश्‍य से परस्‍पर विशेषज्ञता साझा करना, जो दोनों के लिए परस्‍पर लाभदायक होगी और इस प्रकार भारत और किर्गि गणराज्‍य के बीच द्विपक्षीय संबंध भी मजबूत होंगे।

 

संस्‍कृति के क्षेत्र में सहयोग संबंधी समझौता

  • भारत और किर्गिस्‍तान के बीच सांस्‍कृतिक धरोहर को संजोने, लोक कला, थिएटर, युवा महोत्‍सवों का आयोजन,साहित्‍य का प्रकाशन एवं अनुवाद, खेल और फिजिकल कल्‍चर में सहयोग, पुरातात्विक सामग्री का आदान-प्रदान, इतिहास, भूगोल आदि क्षेत्रों में सांस्‍कृतिक सहयोग प्रगाढ़ बनाना।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here