भारतीय रेलवे द्वारा आईटी सक्षम यात्री सेवाओं की शुरुआत

0
219

xSureshPrabhuरेल मंत्री श्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा इन आईटी सक्षम यात्री सेवाओं की शुरुआत की।

  1. मध्य रेलवे के सभी उपनगरीय स्टेशनों पर मोबाइल फोन के जरिए पेपरलेस अनारक्षित टिकटों की बुकिंग।
  2. उत्तरी, पश्चिमी और मध्य रेलवे के छत्रपति शिवाजी टर्मिनल, दादर सेंट्रल, पंवेल, ठाणे और लोकमान्य तिलक टर्मिनल, अंधेरी, मुंबई सेंट्रल, बोरीवली, दादर पश्चिमी, दादर मध्य, वासाई रोड, बांद्रा, नई दिल्ली और निजामुद्दीन स्टेशन पर पेपरलेस प्लेटफॉर्म टिकट की शुरुआत।
  3. पश्चिमी रेलवे, मध्य रेलवे और उत्तरी रेलवे के नई दिल्ली- पलवल सेक्शन के उपनगरीय क्षेत्रों पर पेपरलेस सीजन टिकट की शुरुआत।
  4. मध्य रेलवे और पश्चिमी रेलवे के विभिन्न उपनगरीय स्टेशनों पर कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन की शुरुआत।
  5.   iOS प्लेटफॉर्म के लिए ट्रेन पूछ-ताछ मोबाइल एप्लीकेशन की शुरुआत।

इस मौके पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष श्री एके मित्तल और अन्य बोर्ड सदस्य, एडिशनल मेंबर (सीएंडआईएस) श्री मोहम्मद जमशेद, सीआरईएस की एमडी श्रीमती वंदना नंदा समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रेल मंत्री श्री सुरेश प्रभु ने कहा कि डिजिटल इंडिया की ओर बढ़ते हुए मुझे खुशी है कि हमने आज मोबाइल के जरिए पेपरलेस अनारक्षित टिकट, पेपरलेस सीजन टिकट और पेपरलेस प्लेटफॉर्म टिकटों की सुविधा की शुरुआत की। विभिन्न स्टेशनों पर करीब 50 कैश/स्मार्ट कार्ड वेंडिंग मशीन कार्य करने लगे हैं। इन सभी सुविधाओं का वादा मैंने अपने रेल बजट में किया था।

उन्होंने कहा कि इन सुविधाओं के साथ ही हमने एप्पल प्लेटफॉर्म के लिए ट्रेन पूछताछ मोबाइल एप्लीकेशन की शुरुआत कर दी है। यह एप्लीकेशन एंड्राइड और विंडोज प्लेटफॉर्म पर बेहतर प्रदर्शन कर रहा था। अब इसे एप्पल फोन उपयोगकर्ताओं के लिए भी शुरू कर दिया गया है।

पेपरलेस अनारक्षित टिकट सिस्टम की शुरुआत उपनगरीय स्टेशनों पर टिकट के लिए लगने वाली भीड़ को कम करने के लिए किया गया है। इससे हम मिशन 5 मिनट को हकीकत में बदल लेंगे। पेपरलेस टिकट सर्विस मुंबई पश्चिम रेलवे और दिल्ली में पहले से शुरु है। अब यह सुविधा मुंबई के सभी उपनगरीय स्टेशनों (सेंट्रल और पश्चिम रेलवे दोनों) पर मिलेगी। यह सिस्टम रेलवे वैलेट के फीचर UTS on Mobile एप्लीकेशन पर मिलेगी। इस सिस्टम द्वारा टिकट बुक कराने पर कुछ खास बातों का ध्यान रखना होगा। पहला यह टिकट किसी दूसरे मोबाइल पर नहीं भेजा जा सकेगा। दूसरा यात्रा शुरू होने के बाद आप टिकट नहीं खरीद सकेंगे।

इसके साथ ही पेपरलेस सीजन टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट की भी सुविधा की शुरुआत की गई है। इसके अलावा कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन की भी शुरुआत की गई है।

पेपरलेस अनारक्षित टिकट, सीजन टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट की बुकिंग

  1. सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर या विंडोज स्टोर से मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करें
  2. मोबाइल नंबर, नाम, शहर, ट्रेन, श्रेणी, टिकट, यात्रियों की संख्या और यात्रा करने वाले रूट को रजिस्टर करें।
  3. आर-वैलेट के जरिए टिकट का भुगतान होगा। रजिस्ट्रेशन के बाद आर-वैलेट जीरो बैलेंस पर खुल जाएगा।
  4. आर-वैलेट में टॉप-अप के लिए चिन्हित काउंटर या वेबसाइट utsonmobile.indianrail.gov.in का प्रयोग करें।
  5. यात्री एप्लीकेशन के जरिए ऑप्शन का उपयोग करते हुए एकल यात्रा टिकट, प्लेटफॉर्म टिकट या सीजन टिकट की बुकिंग की जा सकती है।
  6. एकल यात्रा टिकय और प्लेटफॉर्म टिकट की बुकिंग के लिए मोबाइल में जीपीएस सिस्टम का होना अनिवार्य है।

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM)

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) एक स्वत: संचालित बूथ है। इसका इस्तेमाल यात्री अनारक्षित टिकटों को पैसे, सिक्कों या स्मार्ट कार्ड के जरिए खरीदने अथवा स्मार्ट कार्ड के रिचार्ज के लिए करेंगे। इस बूथ (CoTVM) में टिकटों की खरीद के लिए चित्रमय (ग्राफिक्स) इंटरफेस का इस्तेमाल किया गया है। इससे यात्री आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। यह बूथ हर तरह के रुपयों या सिक्कों को स्वीकार करेंगे, जिनपर महात्मा गांधी की तस्वीर लगी होगी। इससे टिकट खिड़कियों पर लगने वाली लाइन कम की जा सकेगी।

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) के कार्य

  1. इससे गैर-उपनगरीय क्षेत्रों के लिए गैर-रियायती द्वितीय श्रेणी यात्रा टिकट और उपनगरीय क्षेत्रों के लिए द्वितीय/प्रथम श्रेणी यात्रा टिकट/ वापसी टिकट मिलेंगे।
  2. प्लेटफॉर्म टिकट प्राप्त करने के लिए।
  3. गैर-रियायती टिकटों के नवीकरण।
  4. स्मार्ट कार्ड रिचार्ज मूल्यवर्ग- 20 रुपए, 50 रुपए, 100 रुपए और 500 रुपए

 

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) की बनावट

  1. दूसरे कंप्यूटर पर निर्भर रहने वाला कंप्यूटर प्रोग्राम
  2. थर्मल प्रिंटर
  3. टच स्क्रीन
  4. आरएफआईडी रीडर
  5. 15 नोटों के साथ नकद वेलिडेटर एस्क्रो
  6. 10 सिक्कों के साथ नकद वेलिडेटर एस्क्रो
  7. 25 हजार रुपए नकद और 3 हजार सिक्कों की कैश बाक्स क्षमता

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) और आटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन (ATVM) में अंतर यह है कि ATVM के जरिए स्मार्ट कार्ड के इस्तेमाल पर ही यात्रियों को टिकट मिल पाता है। लेकिन CoTVM से कैश या सिक्कों या स्मार्ट कार्ड के जरिए यात्री टिकट पा सकेंगे।

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) की सुरक्षा

मशीन में दो दरवाजे होंगे, जो कि सामने की तरफ होंगे। यह दोनों दरवाजे मेक्निकल और इलेक्ट्रानिक लॉक होंगे। इसमें से एक दरवाजे का उपयोग सर्विस इंजीनियर मरम्मत के लिए करेगा। दूसरे दरवाजे में कैश बाक्स होगा, जिसमें अलार्म सिस्टम लगाया गया है। किसी गैर-आधिकारिक व्यक्ति द्वारा इस दरवाजे के खोले जाने पर अलार्म बजने लगेगा। मशीन के नीचले हिस्से में इलेक्ट्रो मेक्निकल लॉक के साथ कैश बाक्स होगा। अगर कोई आधिकारिक व्यक्ति मशीन को खोलना चाहेगा तो उसे अपना स्मार्ट कार्ड और पासवर्ड डालना होगा। पासवर्ड डालने पर मशीन रोजाना ट्रेन कैश- सारांश किताब (DTC) की प्रतिलिपि देगा।

कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन (CoTVM) की शुरुआत

तारीख 01.09.2015 को उत्तरी रेलवे के नई दिल्ली पर 6 CoTVM और पूर्वी रेलवे के सियालदाह और हावड़ा स्टेशन पर 8 CoTVM लगाए गए हैं। अभी तक पूर्वी और उत्तरी रेलवे के विभिन्न स्टेशनों पर 48 कैश/स्मार्ट कार्ड टिकट वेंडिंग मशीन लगाए जा चुके हैं।

iOS प्लेटफॉर्म के लिए ट्रेन पूछ-ताछ मोबाइल एप्लीकेशन

रेलवे सूचना सिस्टम के सेंटर (सीआरआईएस) भारतीय रेलवे का आईटी विभाग है, जिसने मोबाइल एप्लीकेशन के लिए ट्रेन पूछ-ताछ सिस्टम को विकसित किया है। अभी तक यह सिस्टम एंड्राइड और विंडोज मोबाइल उपयोगकर्ताओं के लिए ही विकसित किया गया था। लेकिन अब एक और कदम बढ़ाते हुए इसे एप्पल उपयोगकर्ताओं के लिए भी विकसित कर लिया गया है। इसके जरिए अब iOS उपयोगकर्ता भी ट्रेन के आने और जाने जैसी सूचनाएं मोबाइल पर पा सकेंगे। इस एप्लीकेशन की सबसे अच्छी सुविधा ‘spot your train’ है, इससे आप अपनी ट्रेन की पोजिशन, गंतव्य स्थान तक पहुंचने का समय पता लगा सकते हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

fifteen − fifteen =