पठानकोट हमला – भारत ने पाकिस्तान को सौंप दिए है सबूत और कार्यवाही कि मांग की

0
361

नई दिल्ली– पंजाब के पठानकोट के एयरवेज में हुए आतंकी हमले का सर्च ऑपरेशन सेना ने संयुक्त रूप से चला रखा है। सेना के संयुक्त सर्च ऑपरेशन को लगभग 65 घंटे से अधिक हो चुके हैं। इस आतंकवादी हमले में अभी तक 5 आतंकवादी मारे जा चुके हैं तो वहीं 7 जवान शहीद हो गए हैं। पठानकोट में हुए आतंकवादी हमले में पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत मिले हैं।

यह सबूत भारत ने पाकिस्तान को सौंप दिए हैं और पाकिस्तान ने इन सबूतों के मिलने की तस्तीक की है। पठानकोट आतंकवादी हमले में सबूत के तौर पर अभी तक फोन कॉल रिकॉर्ड ओर पाकिस्तानी आकाओं के मोबाइल नंबर व सीमा पार से आने के सबूत भारत ने पाकिस्तान को दिए हैं। भारत के एनएसए अजीत डोभाल ने पाकिस्तान के एनएसए नसीर खान को कुछ सबूत दिए और उनसे कहा है कि इस मामले पर पाकिस्तान को ठोस कार्रवाई करनी चाहिए। भारत से जानकारी मिलने के बाद पाकिस्तान ने एक बयान में कहा है कि उसने काम भी करना शुरू कर दिया है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, पाकिस्तान सरकार भारत से लगातार संपर्क में है और वहां से दी गई लीड्स पर छानबीन भी कर रही है। बयान में यह भी कहा गया है कि एक ही इलाके में रहते हुए और एक ही इतिहास को साझा करने वाले दोनों देशों को बातचीत की प्रक्रिया पर कायम रहना चाहिए। इसमें यह भी कहा गया है कि आतंकवाद का खात्मा करने के लिए दोनों देशों को साथ मिलकर काम करना चाहिए। भारत सरकार के अधिकारियों ने सोमवार शाम को ही बताया था कि जब भी दोनों पक्षों की बातचीत होगी, चाहे विदेश सचिव स्तर की हो या राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर पर, आतंकियों से पाकिस्तान के तार जुडे होने के सभी सबूत कार्रवाई के लिए दिए जाएंगे।

गौरतलब है कि आतंकियों ने पंजाब के पुलिस एसपी सलविंदर सिंह की कार पर कब्जा करने के बाद उनके, उनके दोस्त राजेश वर्मा और सिंह के रसोइया के कम से कम चार मोबाइल फोन छीन लिए थे और इनमें से कम से कम दो का इस्तेमाल पाकिस्तान में उनके आकाओं से बातचीत करने के लिए किया गया था। घुसपैठियों ने अपने आकाओं से बात करने के लिए दो पाकिस्तानी सिम कार्ड्स का भी इस्तेमाल किया। उनके आकाओं के पाकिस्तानी पंजाब के बहावलपुर में होने की आशंका है।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY